DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पटना की तर्ज पर विकसित होंगे पांच और शहर

पटना। हिन्दुस्तान ब्यूरो। पटना बनेगा महानगर और राज्य के अन्य बड़े शहर भी पटना की तर्ज पर विकसित किए जाएंगे ताकि पटना की ओर लोगों के आने की गति कम हो और राजधानी पर बढ़ रहा बोझ घटे। यही नहीं सूबे में शहरीकरण की धीमी गति को तेज किया जाएगा और दूसरे शहरों में बेहतर संसाधन व सुविधा विकसित किए जाएंगे। ऐसे शहरों में मुजफ्फरपुर, भागलपुर, दरभंगा, गया और पूर्णिया शामिल हैं। इन शहरों का इस तरह विकास होगा कि वे किसी जरूरत के लिए पटना पर निर्भर न रहें।

भविष्य में सहरसा, आरा, मोतिहारी का भी इसी अनुरूप विकास होगा। नगर विकास व आवास विभाग पहले से 28 शहरों के विकास की योजना पर काम कर रहा है।इस समय राज्य में राजधानी पटना ही एकमात्र ऐसा शहर है जहां बेहतर सुविधाएं उपलब्ध हैं और विकास में यह अन्य शहरों से काफी आगे है। यहां बाजार है, कारोबार है और बेहतर बिजली आपूर्ति सिस्टम है। इसका परिणाम यह हो रहा है कि अन्य शहरों से भी लोग पटना आकर ही बसना चाहते हैं।

उधर, अन्य शहरों में विकास की गति अपेक्षाकृत धीमी है। ऐसे में राज्य सरकार अन्य शहरों पर भी ध्यान केंद्रित करेगी। यहां तक कि अन्य शहरों में सीवरेज की सुविधा भी सीमित है। पटना का नया मास्टर प्लान तैयार होने के बाद राज्य सरकार उस पर शीघ्र से काम शुरू करना चाहती है।

लिहाजा इस समय अधिक कोशिश इसी दिशा में की जा रही हैं। पर, सरकार यह भी मानती है कि पटना को महानगर के स्वरूप में रहने देने के लिए यह आवश्यक है कि राज्य में अन्य शहर भी विकसित हों। बिहार के निकट के राज्यों पश्चिम बंगाल, उड़ीसा, यूपी, झारखंड, मध्य प्रदेश आदि में वहां की राजधानी के अलावा अन्य कई ऐसे शहर हैं जो राजधानी जैसे और कहीं-कहीं तो अधिक विकसित हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पटना की तर्ज पर विकसित होंगे पांच और शहर