DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गर्ल्स कॉलेज बनेगा एजुकेशन हब

गर्ल्स कॉलेज को एजुकेशन हब बनाने की योजना पर विचार किया गया। इसके अलावा कॉलेजों में पढ़ाई को लेकर प्राध्यापकों और छात्रों को गंभीर बनाने, आधारभूत संरचनाओं पर खर्च बढ़ाने व सरकारी कॉलेज के छात्रों को बड़ी कंपनियों की जरुरतों के हिसाब से तैयार करने पर चर्चा हुई। शिक्षा विभाग के वित्तायुक्त व प्रमुख सचिव एस एस प्रसाद कॉलेजों के प्राध्यापकों से रूबरू हुए तो समस्याओं पर खुलकर बात हुई। सेक्टर 14 गल्र्स कॉलेज में शुक्रवार को प्राचार्योँ के साथ वित्तायुक्त ने बैठक की।

प्रमुख सचिव ने कहा कि स्कूलों में पढ़ाई गंभीरता पूर्वक हो सकती है तो कॉलेजों में क्यों नही। जो छात्र बंक मारें उन पर जुर्माना लगाया जाए और जो लेक्चरर लापरवाही बरतें उनकी लगाम कसी जाए। वित्तायुक्त ने कहा कि अच्छे रिजल्ट वाले कॉलेजों में नए कोर्सेज शुरू करने की पहल की जाएगी और जहां कोर्सेज छात्रों की रुचि व अन्य कमियों की वजह से प्रभावित हो रहे हैं। उन्हें बंद किया जाएगा। उन्होंने सभी कॉलेजों से नए प्रपोजल बनाकर भेजने व विकास कार्यो पर खर्च बढ़ाने पर जोर देने के लिए कहा। मीटिंग में उच्चतर शिक्षा आयुक्त बी एस मलिक व अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी शामिल हुए। एमडीयू के 25 कॉलेजों ने इस बैठक में हिस्सा लिया। जहां इन कॉलेजों से जुड़ी समस्याओं व योजनाओं पर चर्चा हुई। गल्र्स कॉलेज को एक्सीलेंस कॉलेज होने के बाद भी सुझावों के लिए बैठक में शामिल किया गया। कॉलेजों में इन्फ्रास्ट्रक्चर, अटेंडेंस,फाइनेंशियल जरूरतों के अलावा एजुसेट पर भी चर्चा की गई। सरकारी फंडों के इस्तेमाल व जरूरतों पर भी चर्चा हुई। एजेंडे में शामिल 17 मसलों पर चर्चा के बाद ओपन डिस्कशन भी हुआ जिसमें कॉलेज ने खुलकर अपनी समस्याएं रखीं।

सेक्टर 14 गर्ल्स कॉलेज बनेगा एजुकेशन हब- वित्तायुक्त एस एस प्रसाद ने सेक्टर 14 गर्ल्स कॉलेज को एजुकेशन हब बनाने के लिए कॉलेज प्रशासन से प्रस्ताव तैयार कर भेजने के लिए कहा है। यहां नए कोर्सेज व अन्य संसाधनों की जरुरतों पर रिपोर्ट तैयार कर कॉलेज को भेजनी है। गल्र्स हॉस्टल व अत्याधुनिक सुविधाओं वाले क्लास रूम भी कॉलेज में बनाए जाने पर चर्चा हुई।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:गर्ल्स कॉलेज बनेगा एजुकेशन हब