DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एएसआई ने दर्ज किया मामला, ताज की सुरक्षा

संरक्षित विरासत स्मारक ताजमहल के ऊपर एक हेलीकॉप्टर ने घोषणा किए बिना चार चक्कर लगाए जिसके बाद भारतीय पुरातत्व सर्वे ने संदिग्ध सुरक्षा उल्लंघन के लिए पुलिस में एक मामला दर्ज कराया।
   
17 वीं शताब्दी के इस स्मारक की निगरानी के लिए तैनात आईएसआई अधिकारियों और सीआईएसएफ के सुरक्षा कर्मियों ने 14 दिसंबर को एक हेलीकॉप्टर देखा जो ताजमहल के उपर उड़ रहा था। इसके बाद हेलीकॉप्टर ने तीन चक्कर और लगाए।
   
एएसआई के कंजर्वेटर मुनज्जर अली ने बताया हमने स्थानीय पुलिस में घटना की शिकायत दर्ज कराई है। यह स्मारक की सुरक्षा का उल्लंघन है। हमें बताया गया कि हेलीकॉप्टर में टेलीविजन से जुड़े कुछ लोग थे। उन्होंने ताजमहल की तस्वीरें लेने के लिए गह मंत्रालय और नागर विमानन मंत्रालय से अनुमति ले ली थी। लेकिन हमें इसके बारे में नहीं बताया गया।
   
सूत्रों ने बताया कि हेलीकॉप्टर सुबह नौ बज कर 35 मिनट से नौ बज कर 45 मिनट तक, दोपहर तीन बजे से तीन बज कर दस मिनट तक, चार बज कर 25 मिनट से चार बज कर 30 मिनट तक और फिर शाम पांच बज कर बीस मिनट पर देखा गया।
   
एएसआई और सीआईएसएफ ने दिल्ली स्थित अपने अपने मुख्यालयों को सूचित किया और अब एजेंसियां यह पता लगाने की कोशिश कर रही हैं कि हेलीकॉप्टर ने उड़ान भरने की पूर्व सूचना क्यों नहीं दी।
   
सूत्रों ने बताया कि विरासत स्मारक के प्रचार अभियान की शूटिंग के लिए निजी हेलीकॉप्टर में एक निजी कंपनी के अधिकारी सवार थे।
   
अली ने कहा ताजमहल एएसआई द्वारा संरक्षित स्मारक है। उच्चतम न्यायालय ने व्यवस्था दी है कि इसके 500 मीटर के दायरे में फोटोग्राफी, वीडियोग्राफी सहित कोई अनधिकत गतिविधि नहीं की जा सकती। इसीलिए हमने तत्काल पुलिस को सूचना दी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:एएसआई ने दर्ज किया मामला, ताज की सुरक्षा