DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

काम अभी बाकी

दिल्ली को देश की राजधानी बने सौ साल हो चुके हैं, लेकिन अभी तक हम इसे पूरी तरह रहने लायक नहीं बना पाये हैं। खुद नीति नियंता मानते हैं कि दिल्ली के मास्टर प्लान में कमियां हैं और आने वाले 25-30 साल की जरूरतों को ध्यान में रख इसे नए सिरे से बनाना होगा। इंफ्रास्ट्रक्चर में सुधार के साथ ही दिल्ली से सटे शहरों की ओर भी खास ध्यान देना होगा। हालांकि इस पर काम हो रहा है, लेकिन उतनी तेजी से नहीं। पड़ोसी शहर, जिन राज्यों के अधीन हैं, वहां की सरकारों के साथ तालमेल की कमी के कारण ये शहर दिल्ली की तरह विकसित नहीं हो पा रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:काम अभी बाकी