DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यातायात व्यवस्था दुरुस्त करने के लिए नए प्रयास

वाराणसी वरिष्ठ संवाददाता। कैण्ट के रोडवेज वर्कशॉप की सूरत बदलेगी। वहां शॉपिंग कॉम्प्लेक्स और पार्किंग स्टैण्ड बनेगा। वर्कशॉप मोहनसराय के ट्रांसपोर्ट नगर में शिफ्ट होगा। लंका, सारनाथ और बाबतपुर रूट पर सिटी बसों की संख्या बढ़ायी जाएगी। दूसरी ओर, यातायात की सुविधाएं तय करने को बनी वाराणसी सिटी ट्रांसपोर्ट सर्विसेज लि. संचालित करने के लिए नगर निगम, वीडीए और परिवहन निगम का सहयोग रहेगा। बुधवार को कमिश्नरी अनुश्रवण कक्ष में वाराणसी सिटी ट्रांसपोर्ट सर्विसेज लि. के निदेशक मण्डल की बैठक में अध्यक्षता करते हुए मण्डलायुक्त अजय कुमार उपाध्याय ने यह निर्देश दिये।

उन्होंने रोडवेज में राजस्व प्राप्ति की स्थिति और उदासीन कार्यशैली पर गहरी नाराजगी जतायी। इस मौके पर डीएम की ओर से अपर जिलाधिकारी नगर एमपी सिंह, वीडीए उपाध्यक्ष आरपी गोस्वामी, अपर नगर आयुक्त सच्चिदानन्द सिंह, क्षेत्रीय प्रबन्धक रोडवेज पीके तिवारी की मुख्य उपस्थिति रही।

कुछ प्रमुख निर्देश :- रोडवेज वर्कशॉप के लिए जमीन वीडीए उपलब्ध कराएगा।- कैण्ट की जमीन खाली होने पर वीडीए को सौंप दी जाएगी।- लंका, सारनाथ व बाबतपुर रूट पर प्रत्येक 15 मिनट पर सिटी बस चलें।

यह होगा अंशदान :- नगर निगम, वीडीए तथा परिवहन निगम की ओर से हर वर्ष 3 करोड़ 10 लाख रुपये प्रत्येक की दर से तीन साल तक करीब 1-1 करोड़ रुपये।

नगर निगम तथा वीडीए से कर्मचारी भी लिये जायेंगे।- राजस्व बढ़ाने के लिए पर्यटकों को ध्यान में रखते हुए भी सिटी बसों का संचालन हो। साथ ही विभिन्न रूट पर बस संचालन की संख्या बढ़ाएं। बसों पर विज्ञापन लिखवाएं।

यह है जरूरत :वाराणसी सिटी ट्रांसपोर्ट सर्विसेज लि. के लिए शुरुआती तौर पर कम से कम 75 कर्मचारियों की आवश्यकता है। साथ ही एक चार्टर्ड एकाउन्टेन्ट भी रखने का प्रस्ताव है।

अफसर कहिन :- रोडवेज के क्षेत्रीय प्रबन्धक तथा वाराणसी सिटी ट्रांसपोर्ट सर्विसेज लि. निदेशक मण्डल के पीके तिवारी ने बताया कि वर्तमान में 128 सिटी बसें चल रही हैं। लंका व सारनाथ रूट पर 6-6 बसें संचालित हो रही हैं।

उनका रोटेशन बढ़ाएंगे। वर्कशॉप के लिए ट्रांसपोर्ट नगर में पांच बीघा जमीन मांगी गयी है। काशी डीपो की कार्यशाला समेत अन्य वर्कशॉप स्थानान्तरित करने के लिए चौबेपुर, बाबतपुर और मुगलसराय में भूमि की मांग पहले ही की जा चुकी है।- मण्डलायुक्त और वाराणसी सिटी ट्रांसपोर्ट सर्विसेज लि. के अध्यक्ष अजय कुमार उपाध्याय ने कहा कि कैण्ट के रोडवेज वर्कशॉप को शॉपिंग कॉप्लेक्स, पार्किंग व अन्य उपयोग में लाया जाएगा। उपलब्ध सिटी बसों से राजस्व प्राप्ति की स्थिति का आंकलन करेंगे। फिर जरूरत पड़ी तो अतिरिक्त संख्या में बस चलाने के लिए शासन को प्रस्ताव देंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:यातायात व्यवस्था दुरुस्त करने के लिए नए प्रयास