DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विधानसभा की 81 सीटों पर लड़ेगा जदयू

रांची, ब्यूरो प्रमुख। मांडू उपचुनाव में भाजपा की उपेक्षा के बाद जदयू ने फैसला लिया है कि राज्य की सभी 81 विधानसभा सीटों और लोकसभा की सभी 14 सीटों पर चुनाव लड़ेगा। बुधवार को विधायक क्लब हॉल में हुई पार्टी की प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में यह फैसला लिया गया है।

पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष खीरू महतो ने बताया कि झारखंड में जदयू की मान्यता खत्म हो गयी है। इसकी वजह है कि पार्टी कम सीटों पर यहां चुनाव लड़ती है और कम वोट आते हैं। इसलिए पार्टी की जिला समिति से लेकर प्रदेश इकाई के सदस्यों ने सर्वसम्मति से यह फैसला लिया है।

इस फैसले से पार्टी की केंद्रीय समिति को अवगत करा दिया जाएगा। बाद में पार्टी की प्रदेश कोर समिति के सदस्य केंद्रीय अध्यक्ष से मिलकर पूरी स्थिति से उन्हें अवगत कराएंगे। अंतिम फैसला केंद्रीय नेतृत्व को लेना है। पार्टी राज्य सरकार के कामकाज से असंतुष्ट है। कार्यसमिति ने फैसला लिया है कि 30 जनवरी को राजभवन के सामने धरना दिया जाएगा।

राज्य में व्याप्त भ्रष्टाचार, बेरोजगारी, पिछड़ी जातियों को 27 फीसदी आरक्षण, 14 जिलों में आरक्षण रोस्टर को सुलझाने तथा झारखंड का परिसीमन कराने की मांग की जाएगी। देश के सभी राज्यों में परिसीमन लागू हो चुका है। सिर्फ झारखंड ऐसा राज्य है, जहां परिसीमन का मामला लटका कर रखा गया है।

राज्य में व्याप्त बेरोजगारी को भी पार्टी मुख्य मुद्दा बनाएगी। पार्टी के केंद्रीय प्रवक्ता प्रमोद मिश्र ने कार्यसमिति में लिए गए फैसलों की जानकारी दी। कार्यसमिति में पार्टी के प्रदेश पदाधिकारियों के अलावा पूर्व अध्यक्ष जलेश्वर चौधरी, सरकार के मंत्री राजा पीटर, विधायक सुधा चौधरी, पूर्व विधायक रामचंद्र केसरी, लालचंद महतो सहित जिला अध्यक्ष उपस्थित थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:विधानसभा की 81 सीटों पर लड़ेगा जदयू