DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पैसे के साथ कैसा रिश्ता है आपका?

अनन्या 28 साल की है। एक मल्टीनेशनल कंपनी में मैनेजर के पद पर काम कर रही है। उसकी हर माह की सैलरी उतनी है, जितनी सैलरी उसके पिता की रिटायरमेंट के वक्त थी। फिर हर माह के 20-22 तारीख के बाद उसे अपने निजी खर्चो के लिए अपने पति से पैसे लेने पड़ते हैं। अपने कपड़ों, खाने और अन्य लग्जरी आइटम्स पर अनन्या इतना खर्च करती है कि माह खत्म होते-होते उसके पास पैसे भी खत्म हो जाते हैं। ऐसा भी नहीं है कि वह अपनी सैलरी को बहुत बड़ा हिस्सा निवेश या बचत करती है।

यह कहानी सिर्फ अनन्या की नहीं है, बल्कि अमूमन हर कामकाजी महिला की है। खर्च से जुड़ी गलत आदतें, गलत फाइनेंशियल प्लानिंग और भरपूर शॉपिंग करने जैसी आदतों के कारण ही महिलाओं का अपने पैसे के साथ कभी भी अच्छा संबंध स्थापित  नहीं हो पाता है। कई शोध इस बात को साबित करते हैं कि महिलाएं सिर्फ जरूरत पड़ने पर ही किसी चीज की खरीदारी नहीं करती हैं, बल्कि अपने मूड को ठीक करने के लिए भी शॉपिंग करती हैं।

वहीं, ऐसी महिलाओं की संख्या भी कम नहीं है, जो अच्छी आय होने के बावजूद अपने लिए या अपनी पसंद की किसी चीज पर एक पैसा खर्च नहीं करती हैं। वो एक-एक पैसे का हिसाब रखती हैं और उस पैसे को खुद पर ही खर्च नहीं करतीं, जिसे कमाने के लिए वो दिन-रात इतनी ज्यादा मेहनत करती हैं। पैसों को लेकर यह दोनों तरीका सही नहीं है। जैसे हर रिश्ते में संतुलन की जरूरत होती है, वैसे भी पैसे के साथ आपको अपने रिश्ते में संतुलन बनाना होगा।

बचत आपके लिए क्यों है जरूरी?
अगर औसत आमदनी की बात की जाए तो महिलाओं की औसत आमदनी आज भी पुरुषों से कम है, परिणामस्वरूम हमारी बचत भी पुरुषों की तुलना में कम होती है। वहीं, हमारी औसत आयु पुरुषों से ज्यादा होती है। कंधे-से-कंधा मिलाकर चलने की तमाम बातों के बावजूद हम में से अधिकांश महिलाएं आज पैसों के मैनजमेंट को पुरुषों से जोड़कर देखती हैं। बेहतर होगा कि आप अपने पैसे की कमान खुद संभालें और सही जगह पर अपने पैसे निवेश करें ताकि वक्त के साथ आपका पैसा भी बढ़े।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पैसे के साथ कैसा रिश्ता है आपका?