DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चुस्त परीक्षा की तैयारी, 20 परीक्षार्थी पर होंगे एक वीक्षक

पटना। हिन्दुस्तान ब्यूरो। 20, 21 दिसम्बर को राज्य के 1380 केन्द्रों पर होने वाली प्रारंभिक शिक्षकों की पात्रता परीक्षा को लेकर बुधवार को बिहार बोर्ड में राज्यस्तरीय बैठक हुई। बैठक में सभी जिला शिक्षा पदाधिकारियों, जिला कार्यक्रम पदाधिकारियों के साथ ही बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के सचिव ललन झा, एससीईआरटी के निदेशक हसन वारिस, प्रारंभिक शिक्षा के संयुक्त निदेशक आरएस सिंह शामिल हुए। शिक्षा मंत्री प्रशांत कुमार शाही ने जनता दरबार के बाद इस बैठक की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि बीएसईबी और एससीईआरटी ने टीईटी को लेकर सभी डीईओ और डीपीओ को गाइड लाइन जारी किया।

श्री शाही ने कहा कि कदाचारमुक्त परीक्षा सरकार का मुख्य उद्देश्य है। इसके लिए हर 20 परीक्षार्थी पर एक वीक्षक की तैनाती होगी। सभी परीक्षा केन्द्रों की वीडियोग्राफी कराई जाएगी। टीईटी के 26 लाख परीक्षार्थी 20, 21 की परीक्षा में शामिल होंगे। इनमें 23 लाख ऐसे परीक्षार्थी हैं जो पेपर-1 की परीक्षा देंगे यानि वे कक्षा एक से लेकर 5 के शिक्षक बनने के अभ्यर्थी हैं। सभी डीईओ को एडमिट कार्ड की सीडी दी गई ताकि वह जरूरत हो तो किसी को डुप्लीकेट एडमिट कार्ड जारी कर सकें। 10-12 हजार वैसे परीक्षार्थी बढ़ गए हैं

जिनका न तो एडमिट  कार्ड पहुंचा था और न ही रद्द सूची में उनका नाम था। श्री शाही ने कहा कि 16 तारीख तक यदि सभी परीक्षार्थी को एडमिट कार्ड नहीं मिल सका तो उसके बाद भी बांटा जाएगा। यदि किसी कारण से कोई इस परीक्षा में शामिल नहीं हो पाते हैं तो उन्हें जनवरी में मौका मिलेगा। केवल वैसे अस्वीकृत आवेदन वालों को परीक्षा में शामिल नहीं किया जाएगा जो न्यूनतम अर्हता नहीं रखते हैं। एडमिट कार्ड वितरण में 38 में से महज 6-7 जिलों के कुछेक केन्द्रों पर बाधा आई। प्रतिभागियों की संख्या को देखते हुए यह संख्या कुछ नहीं है। अब उम्मीद है कि परीक्षा शांतिपूर्ण माहौल में होगी। योजनाओं के कार्यान्वयन में गड़बड़ी के सवाल पर मंत्री ने कहा कि कोई गड़बड़ी नहीं है। साइकिल योजना का सर्वे करा रहे हैं। पोशाक योजना पर भी नजर है। दोनों की सफलता का प्रतिशत 95 है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:चुस्त परीक्षा की तैयारी, 20 परीक्षार्थी पर होंगे एक वीक्षक