DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भूख हड़ताल पर बैठे तीन छात्रों की हालत बिगड़ी

बरेली। वरिष्ठ संवाददाता। रुहेलखंड विश्वविद्यालय में भूख हड़ताल पर बैठे छात्रों में तीन की हालत बुधवार की शाम बिगड़ गई। पूरे दिन इनका हालचाल लेने कोई नहीं पहुंचा। छात्र इस इंतजार में रहे कि कुलपति के आने के बाद कोई हल निकलेगा लेकिन शाम तक वह कैंपस में नहीं पहुंचे। छात्रों ने कहा कि अगर उन्हें ट्रिपल जंप का मौका नहीं मिला तो वे 16 दिसंबर से एग्जाम नहीं होने देंगे। बीटेक के 11 छात्र नेहरू केन्द्र के सामने सोमवार की शाम से हड़ताल पर बैठे हैं।

बुधवार को इनमें से पीयूष कुमार गौड़, सुधीर कुमार और अभिषेक कुमार का हालत बिगड़ गई। इन्हें बुखार आ गया और उल्टियां होने लगीं। विश्वविद्यालय प्रशासन से कोई भी अधिकारी इनसे वार्ता करने के लिए नहीं पहुंचा। कुलपति प्रो. सत्यपाल गौतम छुट्टी पर गए हुए हैं। उनके बुधवार को कैंपस पहुंचने की चर्चा थी लेकिन शाम तक वह नहीं पहुंचे। बीटेक की एकेड़ािक कोआर्डिनेशन कमेटी के सदस्यों ने भी साफ कर दिया था कि वह इस मामले में कोई निर्णय लेने का अधिकार नहीं रखते हैं।

छात्रों का कहना है कि कुलपति से मिलकर बात की जाएगी कि जब उनसे पहले ट्रिपल जंप दी चुकी हैं तो फिर विश्वविद्यालय उनका भविष्य तबाह करने पर क्यों तुला है? बताते हैं कि गुरुवार को कुलपति आ जाएंगे। छात्रों की अगुवाई कर रहे विशाल गौतम और सुमन प्रकाश गंगवार ने बताया कि कुलपति से मिलकर छात्रों के पक्ष में मजबूती से आवाज उठाई जाएगी। अगर विश्वविद्यालय ने छात्र हित में फैसला नहीं लिया तो फिर 16 दिसंबर से एग्जाम नहीं होंगे देंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भूख हड़ताल पर बैठे तीन छात्रों की हालत बिगड़ी