DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नगालैंड का एक लाख का इनामी गिरफ्तार

बलिया निज संवाददाता।  नगालैंड का एक लाख का इनामी उमेश सिंह उर्फ उमेश बिहारी उर्फ उमेश नागा नगरा क्षेत्र में बुधवार की भोर में पुलिस मुठभेड़ के दौरान पकड़ा गया। पकड़े गये अपराधी के पास से पुलिस ने नाइन एमएम की कार्बाइन व कारतूस बरामद किया है। पुलिस के अनुसार पकड़े गये अपराधी पर नागालैंड में हत्या, अपहरण, फिरौती के दर्जनों मामले दर्ज हैं। प्रभारी पुलिस अधीक्षक/क्षेत्राधिकारी नगर आरके वर्मा ने बताया कि थानाध्यक्ष नगरा डीके चौधरी हमराहियों के साथ रात्रि गश्त पर निकले थे। भोर में करीब पांच बजे मुखबिर ने थानाध्यक्ष को बताया कि क्षेत्र के खालिसपुर का निवासी उमेश नागा अपने गांव आया है। इसके पास अत्याधुनिक असलहा भी है।

मुखबिर ने पुलिस को यह भी बताया कि उमेश नगालैंड में दर्जनों अपराधिक मामलों में वांछित और एक लाख का इनामी है। मुखबिर ने पुलिस को बताया कि उमेश अपने साथी के साथ बाइक से बिल्थरारोड रेलवे स्टेशन जायेगा। मुखबिर की सूचना मिलते ही एसओ नगरा ने एसओ उभांव अनिल सिंह को बुला लिया और खालिसपुर से परसिया गांव के मार्ग पर स्थित एफसीआई गोदाम के पास घेरेबंदी कर दी।

इसी बीच खालिसपुर की ओर से एक बाइक की लाइट दिखायी दी। बाइक के नजदीक पहुंचने पर पुलिस ने टार्च की रोशनी जलाकर रुकने का इशारा किया। बाइक पर पीछे बैठा व्यक्ति पुलिस को देखते ही बाइक से कूद गया और अत्याधुनिक असलहे से फायरिंग शुरू कर दी। पुलिसकर्मियों की संख्या अधिक होने के कारण अपराधी को किसी तरह दबोच लिया गया। पुलिस ने उमेश के पास से कार्बाइन भी छीन ली।

हालांकि कार्बाइन छिनने के दौरान भी उमेश ने गोली चलायी जो एसओ नगरा के हाथ को जख्मी कर निकल गयी। प्रभारी एसपी ने बताया कि उमेश सिंह के संबंध में नगालैंड के पुलिस अधीक्षक कार्यालय से संपर्क किया गया तो पता चला कि वह नगा उग्रवादी संगठन एनएससीएम इजहाक मुबिया का सक्रिय सदस्य है और संगठन में उसका सेकेंड लेफ्टिनेंट का दर्जा है। पुलिस के अनुसार नगालैंड के प्रमुख व्यवसायी मुहम्मद इसरार की अपहरण व हत्या के मामले में भी वह वांछित है। पुलिस ने उमेश के खिलाफ आईपीसी की धारा 307 व प्रतिबंधित बोर का अत्याधुनिक असलहा पाये जाने पर आर्म्स एक्ट की धारा 7/25 के तहत मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस टीम में एसओ नगरा व एसओ उभांव के अलावा कांस्टेबिल संजय कुमार यादव, योगेन्द्र पाल, स्वामी नाथ भाष्कर , रामध्यान यादव, राकेश पासवान, रामनाथ, अवधेश यादव, वासिद अली, नंदलाल सिंह व सीताराम कन्नौजिया शामिल थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नगालैंड का एक लाख का इनामी गिरफ्तार