DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विभिन्न राज्यों से चोरी की 11 लग्जरी कारें बरामद

मैनपुरी, हिन्दुस्तान संवाद। मंगलवार का दिन जनपद पुलिस के लिए फील गुड रहा। जिले की एसओजी टीम ने बदमाशों से मुठभेड़ के बाद देश के विभिन्न राज्यों से चुराई गयी 11 लग्जरी गाडिम्यां बरामद की हैं। मुठभेड़ के दौरान तीन बदमाश पकड़े गये, और दो बदमाश भाग निकलने में कामयाब हो गये।

मैंनपुरी पुलिस की इस सफलता पर बधाई देते हुए प्रदेश के डीजीपी ने 25 हजार रुपये, आईजी आगरा ने 15 हजार, तथा एसपी मैंनपुरी ने 5 हजार रुपये का पुरुष्कार देने की घोषणा की है। पुलिस लाइन के सभागार में एसपी नितिन तिवारी ने कहा कि सोमवार को एसओजी प्रभारी को मुखबिर से जानकारी मिली कि चोरों का एक गैंग चोरी की एक पजेरो कार लेकर औंछा-घिरोर मार्ग पर जा रहा है।

खबर पाकर एसओजी टीम ने मुखबिर द्वारा बताए स्थान पर घेराबंदी की तो बदमाश पजेरो से उतरकर भागने लगे। गाड़ी पेड़ से टकरा गयी। भागते बदमाशों ने फायरिंग शुरू कर दी। एसओजी ने भी जवाबी फायरिंग की और मुठभेड़ के बाद एसओजी टीम ने तीन बदमाशों को पकड़ लिया।

पजेरो और बदमाशों को लेकर एसओजी टीम औंछा थाने पहुंची जहां पूछताछ में पकडेम् गए बदमाशों ने अपने नाम महिपाल सिंह यादव पुत्र मान सिंह यादव निवासी ग्राम सजौती थाना जसराना जनपद फिरोजाबाद, रजनीश यादव उर्फ निशा पुत्र कडेरे सिंह निवासी मोहल्ला काजी कस्बा व थाना अलीगंज जनपद एटा तथा चिरंजीव सिंह भदौरिया पुत्र शत्रुघन सिंह निवासी नेयपुरा थाना जैतपुर जनपद आगरा हाल निवासी डिफेंस कालोनी कस्बा व थाना वाह आगरा बताए।

रजनीश व चिरंजीव की तलाशी में एक-एक तमंचा व कारतूस बरामद हुए। पूछताछ में उन्होंने बताया कि मौके से मुकेश यादव उर्फ मुक्का पुत्र जिलेदार सिंह यादव निवासी ढकपुरा थाना अलीगंज जनपद एटा, भुवनेश यादव पुत्र अहिवरन सिंह निवासी वामई थाना सिरसागंज फिरोजाबाद भाग निकलने में कामयाब हुए हैं।

बदमाशों ने बताया कि पजेरो कार चोरी की है इसके वे फर्जी कागज बनाने ले जा रहे थे। मैनपुरी आरटीओ ऑफिस का बाबू मुकेश सक्सेना तथा दलाल बिल्लू सरदार निवासी पंजाबी कालोनी मैनपुरी फिरोजाबाद तथा मैनपुरी आरटीओ कार्यालय से फर्जी कागजात तैयार कराते हैं।

इनकी निशानदेही पर पुलिस ने भुवनेश के घर से चार, मोनू पुत्र अवधेश उपाध्याय निवासी वामई के घर से दो तथा शिकोहाबाद रोड पर स्थित संत जनु इंटर कालेज से चार गाडिम्यां भी पुलिस ने बरामद की। ये सभी गाडिम्यां बिहार, दिल्ली, हरियाणा, आजमगढ़ तथा देश के अन्य जिलों से चुराई गई हैं। पकडेम् गए तीनों बदमाशों के विरुद्ध औंछा थाने में विभिन्न धाराओं में मुकदमे पंजीकृत किए गए हैं।

फिरोजाबाद, मैनपुरी में बनते थे फर्जी रजिस्ट्रेशन

मैनपुरी। एसओजी से मुठभेड़ के बाद पकड़े गए बदमाशों ने आरटीओ कार्यालय मैनपुरी और फिरोजाबाद में फर्जी कागजात बनाए जाने के धंधे का भंडाफोड़ भी किया है। बिल्लू सरदार फिरोजाबाद आरटीओ के कर्मचारियों से मिलकर फर्जी कागजात बनाता था और मैनपुरी एआरटीओ कार्यालय में तैनात मुकेश बाबू मैनपुरी आरटीओ आफिस से प्रति गाड़ी एक लाख रुपये लेकर फर्जी कागजात बनाता था।

एसपी ने बताया कि बरामद सभी गाडिम्यां वर्ष 2009 और 10 मॉडल की हैं। इनके इंजन और चैसिस नम्बर खुरचकर इन पर फर्जी नम्बर बनाए जाते थे। इस सम्बन्ध में बरामद गाडिम्यों के कंपनियों के अधिकारियों से पूछा गया तो पता चला कि जो नम्बर इन गाड़ियों पर अभी हैं।

उन नम्बरों की गाडिम्यां बाजार में अभी नहीं उतारी हैं। आरोपी बिल्लू सरदार और मुकेश बाबू दोनों फरार हो गए हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:विभिन्न राज्यों से चोरी की 11 लग्जरी कारें बरामद