DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जेल में एक और कैदी की बीमारी से मौत

जिला जेल में बंद एक विचाराधीन कैदी की दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गयी, अगर जेल प्रशासन की माने तो इस वर्ष अब तक आठ कैदियों की जेल में बीमारी से मौत हो चुकी है।
 
जिला जेल के अधीक्षक आरएन पांडेय ने बताया कि टिकरा नौबस्ता निवासी रामबाबू को 24 जून को जेल लाया गया था तथा उस पर जान लेवा हमले, डकैती जैसे अनेक संगीन मुकदमे दर्ज थे। कल दोपहर रामबाबू को अचानक बहुत तेज सीने में दर्द हुआ तुरंत उसे जेल के अस्पताल में भर्ती कराया गया और वहां के डाक्टरों ने उसे प्राथमिक उपचार दिया। लेकिन हालत बिगड़ने पर उसे तुरंत एम्बुलेंस से जिला अस्पताल उर्सला भेजा गया।

उन्होंने बताया कि उर्सला अस्पताल में डाक्टरों ने जैसे ही उसका इलाज शुरू किया उसकी मौत हो गयी। उनसे पूछा गया कि क्या रामबाबू पहले से बीमार था तो उन्होंने कहा कि ऐसा कुछ नही था। कल पहली बार उसके सीने में दर्द उठा और उसे तुरंत अस्पताल भेज कर उपचार कराया गया।
 
जेल अधीक्षक पांडेय से पूछा गया कि इस वर्ष 2011 में अब तक जेल में कितने कैदियों की मौत हुई है तो उन्होंने कहा कि अब तक आठ कैदियों की मौत बीमारी के कारण हो चुकी है। लेकिन यह आंकड़ा पिछले सालो से काफी कम है क्योंकि पिछले सालों में हर साल जेल में दर्जनो कैदी बीमारी के कारण मरते थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जेल में एक और कैदी की बीमारी से मौत