DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

टूजी में 3 कंपनियों समेत पांच हस्तियों पर शिकंजा

2जी स्पेक्ट्रम आवंटन घोटाला मामले में केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने कॉरपोरेट जगत की पांच हस्तियों के खिलाफ शिकंजा कस दिया है। सोमवार को सीबीआई ने अदालत में तीन कंपनियों व पांच लोगों के खिलाफ तीसरा आरोपपत्र दाखिल किया।

आरोपियों में एस्सार समूह के प्रमोटर अंशुमन रुइया व रवि रुइया तथा ग्रुप निदेशक विकास सर्राफ शामिल हैं। इनके अलावा लूप टेलीकॉम की प्रमोटर किरण खेतान और उनके पति आईपी खेतान भी आरोपी बनाए गए हैं। साथ ही तीन कंपनियां लूप टेलीकॉम प्राइवेट लिमिटेड, लूप मोबाइल इंडिया लिमिटेड और एस्सार टेली होल्डिंग के खिलाफ भी आरोपपत्र दाखिल किया गया है।

पटियाला हाउस स्थित स्पेशल जज ओपी सैनी की अदालत में भारतीय दंड संहिता की धारा 120-बी (आपराधिक साजिश) और 420 (धोखाधड़ी) के तहत आरोपपत्र दायर किया गया। अदालत इस पर 17 दिसंबर को संज्ञान ले सकती है। सीबीआई ने 105 पेज में तैयार आरोपपत्र के साथ 398 दस्तावेज भी अदालत के समक्ष पेश किए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:टूजी में 3 कंपनियों समेत पांच हस्तियों पर शिकंजा