DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सरकारी लोकपाल का विरोध करेगी भाकपा

भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा) के सचिव अतुल कुमार अंजान ने सोमवार को कहा कि लोकपाल विधेयक पर संसदीय स्थाई समिति की ओर से पेश रिपोर्ट लाचार तथा तथ्यहीन है और उनकी पार्टी इसका विरोध करेगी।

अंजान ने कहा कि दिल्ली के जंतर-मंतर पर सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे के कल एक दिन के सांकेतिक अनशन में सभी दलों के नेताओं के लोकपाल विधेयक पर आए विचार में पार्टी महासचिव ए. बी. वर्धन लोकपाल विधेयक के विरोध का संकेत दे दिया था। उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार सामाजिक और राजनीतिक स्तर पर सबसे बड़ी समस्या है जिसे रोकने में केन्द्र सरकार पूरी तरह से विफल रही है।

उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि केन्द्र सरकार प्रत्यक्ष और परोक्ष रूप से भ्रष्टाचार में लिप्त लोगों को संरक्षण दे रही है। भ्रष्टाचार से ऊबी जनता अब सड़कों पर है और यही कारण है कि हजारे को जनता का जबरदस्त समर्थन मिल रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सरकारी लोकपाल का विरोध करेगी भाकपा