DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिजली बोर्ड को 2500 करोड़ रुपए की सब्सिडी की दरकार: मोदी

बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने सोमवार को कहा कि राज्य के विद्युत बोर्ड को 2500 करोड़ की सब्सिडी की दरकार है।

मोदी ने फिक्की द्वारा आयोजित कार्यशाला में कहा कि भूमि और बिजली राज्य के औद्योगिक विकास में एक बड़ी बाधा के रूप में सामने आ रही है। बिहार राज्य विद्युत बोर्ड को सरकार ने 1080 करोड़ रुपए रिसोर्स गैप के रूप में उपलब्ध कराये हैं। बोर्ड को अभी 2500 करोड़ रुपए की सब्सिडी की दरकार है।

उन्होंने कहा कि बिजली केवल बिहार की ही समस्या नहीं है, बल्कि राष्ट्र के 90 फीसदी बिजली बोर्ड घाटे में चल रहे हैं। देश के बिजली बोर्ड का घाटा एक लाख करोड़ रुपए से भी अधिक हो चुका है। मोदी ने कहा कि राज्य के उपभोक्ताओं पर फ्यूल सरचार्ज लगने के लिए एनटीपीसी जिम्मेदार है, क्योंकि कंपनी आयातित कोयले के नाम पर महंगी दर से विद्युत बोर्ड को बिजली बेच रही है।

अधिक बिजली आपूर्ति के संबंध में मोदी ने कहा कि बिहार बिजली बोर्ड जितनी अधिक बिजली खरीदेगा और जितनी आपूर्ति करेगा उसका घाटा उतना बढ़ेगा। इस संकट को दूर करने के लिए बिजली आपूर्ति में कटौती और पारेषण तथा वितरण (टीएंडडी) नुकसान में कमी करना होगा। बिजली क्षेत्र में सुधार एक दिन में संभव नहीं है। बिहार में अभी नुकसान 40 से 45 फीसदी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बिजली बोर्ड को 2500 करोड़ की सब्सिडी की दरकार: मोदी