DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कोयलकारो परियोजना से रोशन होगा झारखंड

रांची ’ रविशंकर उपाध्याय। खूंटी में विस्थापन को लेकर राजनीति का शिकार हुई लंबित महत्वकांक्षी कोयलकारो जल विद्युत परियोजना की अब फिर से शुरू होने की उम्मीद है। जेएसइबी इस परियोजना के निर्माण को लेकर संजीदा है। यह जानकारी खूंटी यात्रा पर आए बोर्ड के चेयरमैन एसएन वर्मा ने दी।

उन्होंने पत्रकारों को बताया कि बोर्ड राज्य सरकार के पास परियोजना का प्रस्ताव नए सिरे से भेज रहा है। इस बार क्षमता सात सौ मेगावाट से घटाकर 400 मेगावाट कर दी गई है। ताकि कम जमीन अधिगृहित की जा सके। डूब क्षेत्र और डैम की ऊंचाई भी पूर्व की अपेक्षा कम होगी।

बोर्ड ने इस संबंध में एनएचपीसी के सीएमडी एवीएल श्रीवास्तव से भी दो दौर की मुलाकात हुई है, जिसमें प्लांट लगाने पर सहमति हो गई है। सीएम अर्जुन मुंडा को भी नई परियोजना के बारे में अवगत करा दिया गया है, जिसपर गंभीरता दिखाते हुए उन्होंने प्रस्ताव अविलंब भेजने का निर्देश दिया है।

एनएचपीसी के मैनेजर रहे वर्मा ने बताया कि यह प्रोजेक्ट अकेले पूरे झारखंड को बिजली देने के लिए काफी होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कोयलकारो परियोजना से रोशन होगा झारखंड