DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मनप्रीत तथा समर्थकों की तत्काल रिहाई की मांग

मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) की पंजाब इकाई के सचिव चरन सिंह विरदी ने गांधीवादी नेता अन्ना हजारे के मजबूत जन लोकपाल कानून की मांग को लेकर एक दिन के सांकेतिक अनशन के साथ एकजुटता प्रदर्शित करने के लिए धरना करने के आरोप में गिरफ्तार पीपुल्स पार्टी आफ पंजाब के अध्यक्ष मनप्रीत बादल और उनके समर्थकों को तत्काल छोड़ने की प्रशासन से मांग की है।

विरदी ने रविवार को यहां एक बयान में कहा कि यह मूल अधिकारों का उल्लघंन है और प्रशासन के ऐसे रवैए से उसका तानाशाही रूख झलकता है। शांतिपूर्ण प्रदर्शन करने की मनाही नहीं होनी चाहिए।

बादल तो हजारे के भ्रष्टाचार विरोधी आंदोलन के साथ एकजुटता का प्रदर्शन करना चाह रहे थे। उन्होंने बादल तथा समर्थकों की तत्काल रिहाई की मांग करते हुए कहा कि शांतिपूर्ण विरोध प्रदर्शन का सम्मान किया जाना चाहिए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मनप्रीत तथा समर्थकों की तत्काल रिहाई की मांग