DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कच्चे माल की कीमत से निर्माण उद्योग प्रभावित: फिक्की

कच्चे माल की कीमत में वृद्धि से निर्माण उद्योग पर गहरा प्रभाव पड़ा है। साथ ही ऑर्डर में कमी और निर्यात में मंदी से भी निर्माण उद्योग प्रभावित हुआ है। इसका खुलासा भारतीय वाणिज्य एवं उद्योग परिसंघ (फिक्की) के हाल के तिमाही सर्वेक्षण में हुआ है।

फिक्की के सर्वेक्षण के अनुसार, 384 निर्माण इकाइयों में से 87 प्रतिशत ने कहा कि उन्हें वर्ष 2010-11 की तुलना में 2011-12 की तीसरी तिमाही में कम विकास दर की उम्मीद है। सर्वेक्षण में पिछले साल की तुलना में इस बार तीसरी तिमाही में निर्माण क्षेत्र में मांग की कमी का भी उल्लेख है, ऑर्डर में कमी इसका सबूत है।

सर्वेक्षण के अनुसार, तीसरी तिमाही में क्षमता के इस्तेमाल में भी गिरावट आई है। केवल 36 प्रतिशत उत्तरदाताओं ने पिछले साल की तुलना में अपनी क्षमता के इस्तेमाल में वृद्धि की बात कही।

इसके अनुसार, ''इससे पहले की तिमाही में 41 प्रतिशत उत्तरदाताओं ने क्षमता वृद्धि के लिए योजनाओं की बात कही थी, लेकिन हाल के सर्वेक्षण में केवल 32 प्रतिशत ने ऐसा कहा।''

सर्वेक्षण में यह भी कहा गया है कि निर्माण क्षेत्र अगले तीन माह तक कार्यबल नहीं बढ़ाना चाहता है, जबकि पिछले सर्वेक्षण में इसमें 57 प्रतिशत की वृद्धि की गई थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कच्चे माल की कीमत से निर्माण उद्योग प्रभावित: फिक्की