DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बेसमेंट में चल रही ओपीडी होगी बंद

 नोएडा। कार्यालय संवाददाता। कोलकाता के एएमआरआई अस्पताल में हुए हादसे के बाद स्वास्थ्य विभाग ने सभी अस्पतालों को बेसमेंट में ओपीडी बंद करने के निर्देश दिए हैं। सोमवार को अस्पतालों को नोटिस जारी किए जाएंगे। अस्पताल प्रबंधन को 15 दिनों के अंदर ओपीडी का स्थान बदलना होगा। ‘हिन्दुस्तान’ ने बेसमेंट में ओपीडी चलने से होने वाले नुकसान को प्रमुखता से उठाया था। शहर में एक दर्जन से अधिक बड़े अस्पताल हैं। इनमें ज्यादातर में ओपीडी बेसमेंट में ही होती है। लिहाजा मरीजों की सबसे अधिक भीड़ बेसमेंट में रहती है। ऐसे में अगर कोई अप्रत्याशित घटना होती है तो जानमाल का भारी नुकसान हो सकता है।

ओपीडी ग्राउंड फ्लोर पर करने के साथ ही फायर विभाग का एनओसी की भी फोटी कॉपी स्वास्थ्य विभाग में जमा करानी होगी।मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. आरके गर्ग ने कहा कि जनपद के ज्यादातर अस्पतालों में ओपीडी बेसमेंट में चल रही है। आग लगने या अन्य आपातकालीन स्थिति में बेसमेंट ही ऐसी जगह हैं जहां से लोगों का निकलपाना मुश्किल होता है। लिहाजा डॉक्टर, मरीज व कर्मचारियों के हितों को देखते हुए बेसमेंट में ओपीडी को बंद करने के निर्देश दिए गए हैं। ऐसा नहीं करने वाले अस्पतालों पर कार्रवाई की जाएगी।

ऐसे अस्पताल जहां बेसमेंट में चलती है ओपीडीअस्पताल मरीजों की संख्या.मेट्रो अस्पताल : 600.कैलाश अस्पताल 3000.विनायक अस्पताल 150.प्रकाश अस्पताल 200.सुमित्रा अस्पताल 100 .सुरभि अस्पताल 100.ओजस गुडविल 100.इंडोगल्फ हॉस्पिटल 150.प्रयाग अस्पताल 100अभी स्वास्थ्य विभाग का नोटिस प्राप्त नहीं हुआ है। सीएमओ के निर्देश के अनुसार ही कार्य किया जाएगा।

वीवी जोशी, प्रशासनिक अधिकारी, कैलाश अस्पतालअस्पताल प्रबंधन को नोटिस प्राप्त नहीं हुआ है। नोटिस पढ़ने के बाद ही ओपीडी को लेकर निर्णय किया जा सकता है। स्वास्थ्य विभाग के निर्देशों का पालन किया जाएगा।डॉ. पुरंग, प्रशासनिक अधिकारी, मेट्रो अस्पतालनोटिस मिलने के बाद ही कोई निर्णय लिया जाएगा। निर्णय लेने से पहले प्रबंधकों व डॉक्टरों की बैठक भी होगी। ताकि विभिन्न पहलुओं पर बातचीत हो सके। डॉॅ.वीएस चौधरी, चेयरमैन विनायक अस्पतालसीएमओ द्वार निर्देशित सभी पहलुओं को माना जाएगा। हमारे लिए मरीजों का हित सवरेपरि होगा। डॉ. वीके गुप्ता, चेयरमैन सुमित्रा अस्पतालस्वास्थ्य विभाग के दिशा निर्देश मिलने के बाद ही निर्णय लिया जा सकेगा, कि आगे क्या करना है। डॉ. वीएस चौहान, चेयरमैन प्रकाश अस्पताल

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बेसमेंट में चल रही ओपीडी होगी बंद