DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उ.प्र. में कांग्रेस को ही बहुमत मिलेगा: गांधी

उत्तर प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस महासचिव राहुल गांधी ने घोषित प्रत्याशियों को आक्रामक होने और अपने क्षेत्र के मतदाताओं के बीच जाने का मंत्र देते हुए शनिवार को दावा किया कि राज्य में कांग्रेस ही बहुमत की सरकार बनाएंगी।

आगामी विधानसभा चुनाव को कांग्रेस के लिए (मिशन 2012) का नाम दे चुके गांधी आज दो दिन के दौरे पर राजधानी लखनऊ आए। उन्होंनें पार्टी के घोषित 213 प्रत्याशियों से बंद कमरे में अलग अलग समूह में बात की। गांधी ने प्रत्याशियों से अपने क्षेत्र में मतदाताओं से सम्पर्क करने और अन्य दलों के खिलाफ आक्रामक तेवर अपनाने के सुझाव दिए।
 
उन्होंनें कहा कि राज्य में कांग्रेस की बहुमत की सरकार बनने की 80 प्रतिशत उम्मीद है। सिर्फ बीस प्रतिशत में ही ऐसी स्थिति है कि चुनाव के बाद कांग्रेस की बहुमत की सरकार नहीं बन सके और ऐसी स्थिति भी दो साल से ज्यादा नहीं रहने वाली है। उन्होंनें कहा कि जनता कांग्रेस से उम्मीद लगाए है। अब प्रत्याशियों को मेहनत करके उनकी उम्मीदें पूरी करनी है।
 

गांधी ने पार्टी के घोषित प्रत्याशियों से कांग्रेस की बहुमत की सरकार बनने या त्रिशंकु विधानसभा होने का संकेत दिया। कांग्रेस की सरकार नहीं बनने की 20 प्रतिशत संभावना के मद्देनजर उनका इशारा त्रिशंकु विधानसभा की ओर ही था। प्रत्याशियों को उनका यह भी संकेत था कि कांग्रेस के अलावा यदि दूसरे दल की सरकार बनी भी तो दो साल से ज्यादा नहीं चल पाएगी।
 
उन्होंने कहा कि महंगाई (कानून व्यवस्था) विकास कार्य ठप होना तथा राज्य में व्याप्त भ्रष्टाचार के लिए प्रत्याशियों को आक्रामक होकर सुश्री मायावती को ही जिम्मेदार बताना होगा। गांधी ने कहा कि बिना आक्रामक हुए विपक्ष को परास्त नहीं किया जा सकता।
 
गांधी ने कहा कि प्रत्याशियों को मेहनत करने में कोई कसर बाकी नहीं रखनी होगी क्योंकि राज्य की जनता बदलाव का मन बना चुकी है। उन्होंने कहा कि मायावती सरकार पर हमले करने के लिए कई मुद्दे हैं। प्रत्याशियों को पार्टी कार्यकर्ताओं को विश्वास में लेते हुए उन मुद्दों को आक्रामक ढंग से उठाना होगा।

उन्होंने कहा कि कानून व्यवस्था और राज्य के मंत्रियों के उजागर हो रहे भ्रष्टाचार बडा मुद्दा है जिससे इस सरकार की कलई खुल गई है। प्रत्याशियों को बसपा के साथ समाजवादी पार्टी .सपा और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर भी आक्रामक होना होगा। इन दो दलों की सरकारे भी राज्य में रही हैं। राज्य के खराब हालात के लिए इन दो दलों की सरकारे भी बराबर की जिम्मेदार हैं।

प्रत्याशियों ने श्री गांधी के सामने अपने क्षेत्र की समस्याएं रखी तो मुस्लिम आरक्षण का भी मुद्दा उठाया। गांधी ने आश्वासन दिया कि मुस्लिमों के आरक्षण के मामले को चुनाव के पहले ही सुलझा दिया जाएगा। उन्होंनें प्रत्याशियों से कहा कि जब भी आपको मेरी या पार्टी के किसी अन्य नेता की जरूरत हो वह मौजूद रहेंगे। बस चुनाव पूरी आक्रामकता के साथ लड़ना होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:उ.प्र. में कांग्रेस को ही बहुमत मिलेगा: गांधी