DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बालिका सशक्तिकरण पर आधारित होगी बिहार की झांकी

गणतंत्र दिवस परेड 2012 के लिए चयनित बिहार की इस बार की झांकी बालिका सशक्तिकरण पर आधारित होगी जिसमें भागलपुर जिले की थीम को दर्शाया जाएगा। राज्य के सूचना एवं जनसंपर्क मंत्री वृशिण पटेल ने कहा कि लगातार पांचवें वर्ष बिहार की झांकी का चयन गणतंत्र दिवस परेड के लिए किया गया है।

इस बार बिहार की झांकी में भागलपुर जिले के धरहरा गांव की थीम को प्रदर्शित किया जाएगा, जहां एक बच्ची के जन्म लेने पर 10 फलदार पेड़ लगाए जाते हैं। उन्होंने कहा कि धरहरा गांव बालिका सशक्तिकरण के लिए राज्य में एक आदर्श है। यहां घर में बेटी के जन्म पर घर के लोग 10 फलदार पेड़ लगाते हैं।

वृक्षारोपण का कार्य इस गांव में पीढ़ी दर पीढ़ी चला आ रहा है। गांव में लैंगिक अनुपात एक हजार पुरूषों पर 871 महिलाओं का है। धरहरा गांव का क्षेत्रफल 1200 एकड़ है जिसमें 400 एकड़ में पूरी तरह फलदार पेड़ हैं।

विभाग के सचिव राजेश भूषण ने बताया कि प्रतिवर्ष गणतंत्र दिवस परेड की झांकी के लिए रक्षा मंत्रालय के विशेषज्ञों की समिति आठ राज्यों की झांकियों चयन करती है। बिहार की झांकी लगातार पांचवीं बार चयनित हुई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बालिका सशक्तिकरण पर आधारित होगी बिहार की झांकी