DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कुडनकुलम परमाणु संयंत्र की घेराबंदी

तमिलनाडु के तिरुनेलवेली जिले में स्थित कुडनकुलम परमाणु संयंत्र (केएनपीपी) का निर्माण कार्य तत्काल बंद करने की मांग को लेकर करीब 1500 ग्रामीणों ने शनिवार को उसकी घेराबंदी की।

पीपुल्स राइट्स मूवमेंट के समन्वयक एस शिवसुब्रमण्यम ने कहा, ''आज सुबह करीब 10 लोग पश्चिम बंगाल से कुडनकुलम आए और उन्होंने हमसे संयंत्र स्थल का रास्ता पूछा। पूछने पर उन्होंने बताया कि वे श्रमिक हैं और ठेकेदार ने उन्हें संयंत्र में काम करने के लिए बुलाया है।''

उन्होंने कहा, ''इससे हमारे आरोपों की पुष्टि होती है कि एनपीसीआईएल (न्यूलियर पॉवर कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेट) तमिलनाडु सरकार के काम रोकने के प्रस्ताव का सम्मान नहीं कर रही है।''

इसकी सूचना मिलते ही आसपास के ग्रामीण केएनपीपी के मुख्य प्रवेश द्वार पर जमा हो गए। एक अन्य कार्यकर्ता आर थाड्स ने कहा, ''पुरुष एवं महिलाएं सड़कों के दोनों ओर बैठे हैं लेकिन यातायात अवरुद्ध नहीं हुआ है। हालांकि कोई भी केएनपीपी के अंदर नहीं जा सकता।''

उन्होंने कहा कि 500 से अधिक लोग संयंत्र के अंदर काम कर रहे हैं और शनिवार को 150 श्रमिकों के लिए एनपीसीआईएल कैंटीन से भोजन दिया गया है।

सुरक्षा के प्रति स्थानीय लोगों की आशंकाओं को दूर करने के लिए केंद्र एवं राज्य सरकार द्वारा अलग-अलग समितियों का गठन किया गया है। संभावना है कि केंद्र सरकार की 15 सदस्यीय समिति 13 दिसंबर को कन्याकुमारी में बैठक करेगी। बैठक में समिति लोगों द्वारा उठाए गए मुद्दों पर चर्चा कर जवाब तैयार करेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कुडनकुलम परमाणु संयंत्र की घेराबंदी