DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

100 करोड़ी करीना 500 करोड़ की हीरोइन

100 करोड़ी करीना 500 करोड़ की हीरोइन

पिछले कुछ सालों से अपनी फिल्मों के चुनाव को लेकर करीना कपूर बेहद चुस्त दिखाई पड़ती हैं। बीते दो सालों में उन्होंने इंडस्ट्री के सुपरस्टार्स के साथ ही काम किया है और उनकी फिल्में 100 करोड़ का आंकड़ा पार करने का दमखम रखती हैं। तो क्या करीना के पास कोई गेम प्लान है या फिर कोई ट्रिक, जिसके बल पर वो इंडस्ट्री की सबसे सफल अभिनेत्री बनी बैठी हैं? मधुर भंडारकर, करण जौहर, रोहित शेट्टी और मिलन लूथरिया जैसे निर्देशकों के बड़े प्रोजेक्ट उनके हाथों में हैं। सैफ, आमिर खान, शाहरुख खान, अजय देवगन और अक्षय कुमार की अगली फिल्मों में भी वही हैं। तो क्या करीना आगे भी 100 करोड़ी हीरोइन साबित होने जा रही हैं? क्या है सच, आइये जानें खुद करीना के शब्दों में

साल खत्म होने को है और बॉक्स ऑफिस चिल्ला-चिल्लाकर पूछ रहा है कि आखिर साल की नंबर 1 हीरोइन कौन है? फिल्म इंडस्ट्री बॉक्स ऑफिस की माया को ही महत्व देती है, सो लाजमी है कि ऐसा सवाल भी वही करेगा। तो कौन है वो हीरोइन, जिसकी फिल्मों का कलेक्शन 100 करोड़ का आंकड़ा देखते ही देखते पार कर लेता है। कौन है वो हीरोइन, जिस पर करोड़ों का दांव खेलने से निर्माता कभी नहीं हिचकिचाते? आखिर कौन है वो हीरोइन, जिसके साथ न केवल खान कैंप काम करके खुश है, बल्कि इंडस्ट्री के जिस सितारे के साथ वह काम कर लेती है वो तर जाता है? तो साहेबान, इन तमाम सवालों का जवाब उस छम्मकछल्लो के ठुमकों में छिपा है, जिसने इस साल कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक सबको अपना दीवाना बनाया है। उस तारिका की अदाओं की कशिश में आमिर, सलमान और शाहरुख तक अपने होश-ओ-हवास खो बैठते हैं। जी हां, हम बात कर रहे हैं इस साल इंडस्ट्री को सबसे ज्यादा बिजनेस देने वाली हीरोइन करीना कपूर की।

करीना कपूर आज इंडस्ट्री की एकमात्र ऐसी अभिनेत्री हैं, जिनकी फिल्में लगातार बॉक्स ऑफिस पर तहलका मचाती आ रही हैं। इस साल रिलीज हुई करीना की फिल्म बॉडीगार्ड ने न केवल ओपनिंग के पिछले सारे रिकॉर्ड तोड़े, बल्कि एंड अप कलेक्शन के मामले में भी वह अब तक की सबसे ज्यादा कमाई करने वाली फिल्म थ्री ईडियट्य के बाद दूसरे नंबर पर रही। दूसरे नंबर पर रहने का मलाल करीना को नहीं होना चाहिए, क्योंकि पहले पायदान पर रहने वाली फिल्म भी उन्हीं की थी। यही नहीं, इसी साल रिलीज हुई उनकी दूसरी फिल्म रा.वन भी अपनी पूरी कीमत वसूलने में कामयाब रही और निर्माताओं को अच्छा र्टिन भी दे गई। यानी सलमान और शाहरुख खान के साथ करीना की जोड़ी लकी रही। तो अब दूसरा नंबर किसका होगा। इमरान खान का, जो उनके साथ अगली फिल्म एक मैं और एक तू (जनवरी 2012 में रिलीज होगी) में दिखेंगे या फिर उनके प्रेमी (जल्द शादी भी होने वाली है) सैफ अली खान का, जिनके साथ वह उनकी होम प्रोडक्शन एजेन्ट विनोद में आने वाली हैं।

करीना के शब्दों में जानें तो ये दोनों फिल्में उनके लिए अहम हैं, लेकिन एजेन्ट विनोद को वह एक बड़ा प्रोजेक्ट मानती हैं। हालांकि सैफ अली खान और एजेन्ट विनोद के निर्देशक श्रीराम राघवन का यह प्रोजेक्ट काफी लंबा खिंच गया है, जिसकी कई वजहें हैं, लेकिन करीना कपूर कहती हैं- ‘सबसे पहले तो मैं ये बता दूं कि एजेन्ट विनोद कोई साधारण प्रोजेक्ट नहीं है। यह एक स्पाई मूवी है, जिसे बनाने में काफी मेहनत की गई है। हम जल्दबाजी में दर्शकों को कोई अधपकी डिश नहीं खिलाना चाहते। इस फिल्म के एक्शन सीन्स को काफी बड़े स्तर पर फिल्माया गया है। ठीक उसी तरह से जैसे जेम्स बॉन्ड फिल्मों में किया जाता है। इस फिल्म के हर पहलू पर सैफ और श्रीराम राघवन ने जमकर मेहनत की है, इसलिए ऐसे प्रोजेक्ट्स में समय तो लगना लाजमी था। ये कोई कॉमेडी फिल्म नहीं है, जिसे 50 दिनों में पूरा कर लिया जाता है। अब हम इसके अंतिम चरण में हैं और इसे हम अगले साल पहली तिमाही के दौरान किसी भी समय रिलीज कर देंगे। हां, मेरे लिए यह फिल्म बेहद खास है। पर ऐसा भी बिल्कुल नहीं है कि इसके आगे मैं अपनी दूसरी फिल्मों को तवज्जो नहीं दे रही हूं।’

लेकिन करीना हमेशा बड़े निर्देशकों की बड़ी फिल्में, जिनमें चोटी के सितारे काम करते हैं, हथियाने में कैसे सफल हो जाती हैं? क्या ऐसे बड़े प्रोजेक्टस के लिए वह निर्देशकों की पहली पसंद होती हैं या फिर वह ऐसी फिल्मों के लिए कोई गेम प्लान अपनाती हैं? इस पर करीना कहती हैं, ‘सच कहूं तो फिल्मों के पाने के लिए मेरे पास कोई गेम प्लान नहीं है। बस सब कुछ अपने आप हो जाता है और चीजें व्यवस्थित रहती हैं। और जहां तक मुझे पता है मैंने कभी ऐलान नहीं किया कि मैं फलां फिल्म में काम करना चाहती हूं या फलां फिल्म में मुझे ही होना चाहिए था। हां, लेकिन ये सच है कि मैं फिल्में चुनते समय काफी सावधानी बरतती हूं। यही वजह है कि सभी खान मेरे साथ काम करने के लिए हमेशा तैयार रहते हैं और ये मौके एक के बाद एक आते रहते हैं। इससे ये भी जाहिर होता है कि ईश्वर की मेरे ऊपर कृपा है। मैने कभी प्लान नहीं किया कि मैं सलमान, शाहरुख, आमिर, इमरान या सैफ के ही साथ एक ही समय में काम करूं। और ये महज संयोग ही हो सकता है कि पिछले दो सालों में मैंने इन्हीं लोगों के साथ फिल्में की हैं।’

करीना के बयान से यह तो मोटे तौर पर साफ होता है कि वह फिल्मों के चुनाव में काफी सावधानी बरतने लगी हैं। आज उनके हाथों में सात फिल्में हैं, जिनमें से पांच फिल्में 2012 में रिलीज होंगी और बाकी दो 2013 में। यानी अगले दो साल की प्लानिंग उन्होंने कर ली है और दो साल तक वह सलमान खान की तरह फुल टाइम बुक हैं। इन सात फिल्मों में मधुर भंडारकर की फिल्म हीरोइन एक ऐसी फिल्म है, जिस पर करीना का काफी कुछ दांव पर लगा है। यह एक ऐसी फिल्म है, जो उनके चुनिंदा चुनाव पर सवालिया निशान भी लगाती है। हीरोइन के इन, आउट और फिर से इनके सवाल पर वह कहती हैं, ‘मधुर भंडारकर ने यह फिल्म पहले मुझे ऑफर की थी। मेरे ऑफर ठुकरा देने पर उन्होंने इसमें किसी और को ले लिया था। वो मेरे पास दोबारा आए और मैंने फिल्म स्वीकार कर ली। वो सिर्फ इसलिए, क्योंकि यह एक अच्छी फिल्म है। इससे ज्यादा मैं और क्या कहूं।’

फिल्म हीरोइन के मुद्दे को करीना ने अपने बयान से सहज तो कर दिया, लेकिन ये बात भी चौंकाती है कि पिछली दो पुरुष प्रधान फिल्में बनाने वाले मधुर (जेल और दिल तो बच्चा है जी) की इस फिल्म में उन्होंने क्या देखा जो एक बार मना करने के बाद दोबारा हां कर दी। हालांकि वह हीरोइन की कहानी में अपनी आस्था पहले ही दर्शा चुकी हैं। तो फिर उन्होंने पहले मना क्यों किया था। वह कहती हैं, ‘मधुर बहुत ही प्रतिभाशाली निर्देशक हैं और महिला प्रधान विषयों पर फिल्में बनाना उन्हें पसंद है। ऐसे में मैं हीरोइन को लेकर कैसे मना कर सकती थी। मैं कहना चाहूंगी कि दर्शकों को हीरोइन में बढ़िया गीत-संगीत के अलावा ड्रामा और स्टोरी कहने का स्टाइल आकर्षित करेगा। मधुर की यह खासियत रही है कि वह ऐसे विषयों को सनसनीखेज बना देते हैं, जिसमें खोखलेपन की गुंजाइश नहीं होती।’

अगले दो साल तक करीना काफी व्यस्त हैं। उनके पास बड़े बैनरों की ए लिस्ट हीरोज के साथ सात फिल्में हैं। तो क्या करीना आने वाले दो सालों में अकेले ही इंडस्ट्री को 700 करोड़ देने वाली हैं। एक नजर करीना की फिल्मों और उन पर लगे करोड़ों के दांव पर।

फिल्म                                    बैनर/निर्माता                 निर्देशक 
1. एक मैं और एक तू   धर्मा प्रोडक्शन/करण जौहर      शकुन बत्र
2. एजेन्ट विनोद  इल्युमिनाति फिल्म्स/सैफ अली खान श्रीराम राघवन
3. तलाश   एक्सेल फिल्म्स/फरहान अख्तर      रीमा कागती
4. हीरोइन   यूटीवी/रॉनी स्क्रूवाला    मधुर भंडारकर
5. वंस अपॉन ए टाइम अगेन          ऑल्ट एंटर/एकता कपूर मिलन लूथरिया
6. गोलमाल 4  श्रीअष्टविनायक/ढिल्लिन मेहता             रोहित शेट्टी
7. चेन्नई एक्सप्रेस  रेड चिलीज/शाहरुख-गौरी खान           रोहित शेट्टी

करीना द्वारा अभिनीत उपरोक्त सभी फिल्में बड़े बजट की हैं। माना जा रहा है कि फिल्म एजेन्ट विनोद, जिसमें वह सैफ के साथ हैं, के अलावा तलाश (आमिर खान), हीरोइन (अर्जुन रामपाल और इमरान हाशमी), वंस अपॉन ए टाइम अगेन (अक्षय कुमार), गोलमाल 4 (अजय देवगन) और चेन्नई एक्सप्रेस (शाहरुख खान) में बड़े सितारों की मौजूदगी इन फिल्मों को न केवल बढ़िया ओपनिंग दिला सकती है, बल्कि इनका वीकेंड भी 30-40 करोड़ रुपये आसानी से पार कर सकता है। ऐसे में इन फिल्मों की रिलीज डेट्स फेस्टिव सीजन के दौरान रखी जाती हैं, तो हो सकता है इनमें से किसी फिल्म को दबंग और बॉडीगार्ड जैसा भी बिजनेस मिल जाए। और अगर ऐसा हुआ तो करीना वाकई इंडस्ट्री को दो सालों में अकेले 700 करोड़ का बिजनेस करा डालेंगी और नबंर 1 का ताज भी उनके सिर ही बंधा रहेगा। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:100 करोड़ी करीना 500 करोड़ की हीरोइन