DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नए मेहमानों के आने से खिला प्राणि उद्यान

उत्तर प्रदेश की राजधानी स्थित 90 साल पुराने लखनऊ प्राणि उद्यान में अब आगंतुको को पहली बार विलुप्तप्राय वन्यजीव लेपर्ड कैट (चीता बिल्ली) देखने को मिलेंगे।

त्रिपुरा के सिपाहिजल जूलॉजिकल पार्क से वन्यजीव विनिमय के अंतर्गत प्राणि उद्यान में लेपर्ड कैट का एक जोड़ा भास्कर-भैरवी लाया गया है। प्राणि उद्यान की निदेशक रेनू सिंह ने शनिवार को बताया कि भास्कर नर है, जिसकी उम्र करीब पांच साल है और मादा भैरवी की उम्र करीब नौ साल है।

सिंह ने बताया कि लेपर्ड कैट वन्यजीव संरक्षण अधिनियम की सूची-एक में शामिल दुर्लभ वन्यजीवों में शुमार है। प्राणि उद्यान अधिकारियों के मुताबिक वन्यजीव विनिमय कार्यक्रम के तहत यहां से भी जल्दी ही पांच वन्यजीवों को सिपाहिजल जूलॉजिकल पार्क भेजा जाएगा।

साल 1921 में स्थापित लखनऊ प्राणि उद्यान में वर्तमान में 87 प्रजातियों के 946 वन्यजीव हैं। इसमें 34 प्रजातियों के 468 स्तनधारी, 44 प्रजातियों के 378 पक्षी और नौ प्रजातियों के 11 सरीसृप शामिल हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नए मेहमानों के आने से खिला प्राणि उद्यान