DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लापरवाही बर्दाश्त नहीं : सीएम

गढ़वा/मेदिनीनगर। राज्य के विकास की धीमी गति के लिए केंद्र सरकार पर बरसने और अफसरों को काम में लापरवाही नहीं बरतने की चेतावनी देने के साथ मुख्यमंत्री अर्जुन मुंडा की पलामू प्रमंडल की तीन दिवसीय यात्रा समाप्त हो गई। शुक्रवार को यात्रा के अंतिम चरण में गढ़वा रवाना होने से पहले मेदिनीनगर में उन्होंने मीडिया से कहा कि एनएच के कारण राज्य सरकार की बदनामी हो रही है।

उन्होंने कहा : झारखंड में सभी एनएच बदहाल हैं। केंद्र सरकार सहयोग नहीं कर रही है। उन्होंने अफसरों से कहा कि विकास योजनाओं में लापरवाही अब किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं की जाएगी। काम नहीं करनेवालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। बाद में गढ़वा जाने के रास्ते में वह तीन जगहों पर रुके और एनएच का मुआयना किया।

सड़क की बदहाली के लिए अफसरों-इंजीनियरों को हड़काया। राज्य सरकार के आला अफसरों को 15 दिन का समय दिया। सीएम ने हरेक विभाग की रिपोर्ट मांगी है। स्वास्थ्य, शिक्षा, कल्याण, ऊर्जा और पथ निर्माण विभाग पर सीएम की खासी नजर थी। मुख्यमंत्री ने कहा कि मेदिनीनगर को मार्च या मध्य अप्रैल तक हटिया ग्रिड से बिजली आपूर्ति शुरू कर दी जाएगी। गढ़वा को हटिया से बिजली मिलने में करीब एक साल लगेंगे।

गढ़वा के मेराल में आयोजित समारोह में मुंडा ने मुख्यमंत्री लाडली लक्ष्मी योजना की शुरुआत की। उन्होंने रमना और मेराल की छह-छह बालिकाओं का नाम दर्ज कर उन्हें चेक दिया। इसके अलावा जंगली हाथियों द्वारा नष्ट की गई फसल के लिए 72 किसानों को भी क्षतिपूर्ति का चेक भी दिया गया। मुख्यमंत्री शाम को हेलीकॉप्टर से रांची लौट गए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:लापरवाही बर्दाश्त नहीं : सीएम