DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

झूठे मुकदमें में कारवाई को लेकर प्रदर्शन

गोली से घायल करने का झूठा मुकदमा दर्ज कराने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर जिला बार एसोसिएशन के पूर्व उपप्रधान शिवदत्त वशिष्ठ के नेतृत्व में काफी तादात में लोग पुलिस के ज्वाइंट कमिश्नर से मिले तथा उक्त पुलिसकर्मियों को नौकरी से बर्खास्त किए जाने की मांग की।

पुलिस के ज्वाइंट कमिश्नर को दी शिकायत में पूर्व उपप्रधान शिवदत्त वशिष्ठ समेत अन्य लोगों ने कहा कि हरियाणा पुलिस के हवालदार जिले सिंह व डबुआ पुलिस चौकी में तैनात हवालदार विनोद कुमार ने एक साजिश के तहत मोहनदत्त व उसके पिता के खिलाफ झूठा मुकदमा दर्ज कराया। इसे लेकर उन्होंने पुलिस आयुक्त से मिलकर मामले की जांच कराए जाने की मांग की। एसीपी विनोद कौशिक ने मामले की जांच की तो यह मामला झूठा पाया गया।

प्रतिनिधि मंडल में शामिल जिला बार एसोसिएसन के पूर्व वरिष्ठ उपप्रधान शिवदत्त वशिष्ठ, प्रदीप शाडिल्य, मोहन दत्त शर्मा, प्रदीप वशिष्ठ, बाल किशन, विजय, राजेश, सुन्दर, अमित, ज्ञानेन्द्र, ज्ञान, बलविन्द्र, मामचन्द, सुरेश आदि ने ज्वाइंट कमिश्नर अनिल राव से मुलाकाल कर उक्त पुलिसकर्मियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई किए जाने की मांग की। इन्होंने उक्त पुलिसकर्मियों को बर्खास्त किए जाने की मांग की।
प्रॉपर्टी को लेकर जिले सिंह ने यह षडयंत्र रचा। इसके चलते उसने अपने पैर में खुद गोली मार ली और अपने साथियों के साथ मिलकर ड्रामा रचकर मुकदमा दर्ज करा दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:झूठे मुकदमें में कारवाई को लेकर प्रदर्शन