DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

काले धन पर भाजपा सांसदों ने सौंपा घोषणापत्र

भाजपा के लोकसभा और राज्यसभा सदस्यों ने शुक्रवार को अपने संबंधित सदनों के पीठासीन अधिकारियों को घोषणापत्र सौंपा कि उनके विदेशी बैंकों में कोई अवैध खाते नहीं हैं। इस तरह से मुख्य विपक्षी दल ने सरकार और सत्तारूढ़ कांग्रेस पर काले धन के मुद्दे पर दबाव बनाने का प्रयास किया है।
   
भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी ने संसद परिसर में कहा कि पार्टी सरकार से यह भी पूछेगी कि विदेशी बैंकों में जमा काले धन को वापस लेने के लिए मौजूद अंतरराष्ट्रीय कानूनों का इस्तेमाल करते हुए क्या कदम उठाये गये हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा के लोकसभा सदस्यों ने अध्यक्ष मीरा कुमार और राज्यसभा सदस्यों ने सभापति हामिद अंसारी को अपने घोषणापत्र सौंपे हैं। लोकसभा में पार्टी के 112 सदस्यों और राज्यसभा में 50 सदस्यों ने अपने घोषणापत्र दिये।
   
आडवाणी ने बताया कि पार्टी के एक राज्यसभा सदस्य राम जेठमलानी अपनी पुत्री के अस्वस्थ होने के चलते आज नहीं आ सके। उन्होंने कहा कि उनकी जन चेतना यात्रा के समापन पर की गयी घोषणा के मद्देनजर सांसदों ने अपने घोषणापत्र सौंपे हैं कि उनके पास विदेश में कोई अवैध बैंक खाता नहीं है।

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद द्वारा नौ दिसंबर को भ्रष्टाचार रोधी दिवस घोषित किया गया है। आडवाणी ने कहा कि आज इस दिवस पर सभी सदस्यों ने घोषणापत्र सौंपे। उन्होंने कहा कि अमेरिका, जर्मनी और फ्रांस जैसे कई देशों ने ऐसे राष्ट्रों को अवैध धन लौटाने के लिए मजबूर किया है जिन्हें काला धन की पनाहगाह माना जाता है। संसद में इस विषय पर चर्चा के दौरान हम सरकार से पूछेंगे भारत ने इस दिशा में क्या हासिल किया है।
   
जब आडवाणी से कांग्रेस की वैध विदेशी बैंक खातों की घोषणा की मांग के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि यदि किसी के पास विदेश में वैध खाता है तो चुनाव के समय घोषणापत्र में वह इसकी जानकारी देगा। राजग के अन्य सहयोगी दलों द्वारा इस तरह का कदम उठाये जाने की संभावना के सवाल पर लोकसभा में विपक्ष की नेता सुषमा स्वराज ने कहा कि वे ऐसा जल्दी करेंगे। पार्टी नेता वेंकैया नायडू ने कहा कि हमें उम्मीद है कि अन्य पार्टियों के सांसद भी इस कदम को अपनाएंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:काले धन पर भाजपा सांसदों ने सौंपा घोषणापत्र