DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वन-डे का बॉस

नजफगढ़ के नवाब विरेंदर सहवाग वनडे इतिहास में दोहरा शतक बनाने वाले भारत के सचिन तेंदुलकर के बाद दुनिया के दूसरे बल्लेबाज बन गए हैं। उन्होंने वेस्टइंडीज के खिलाफ होलकर स्टेडियम में गुरुवार को चौथे वन-डे में सचिन का 200 रन का रिकॉर्ड तोड़ डाला। इस तरह भारत चौथे वनडे मैच वेस्टइंडीज के खिलाफ 50 ओवर में पांच विकेट पर 418 रन का स्कोर खड़ा किया।

सचिन ने गत वर्ष 24 फरवरी को ग्वालियर में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 147 गेंदों में 25 चौकों और तीन छक्कों की मदद से वनडे इतिहास का पहला दोहरा शतक बनाया था। सहवाग ने इंदौर में 140 गेंदों में दोहरा शतक बनाकर इस रिकॉर्ड को तोड़ा। इस तरह मध्य प्रदेश के नाम एकदिवसीय क्रिकेट के दो दोहरे शतकों की उपलब्धि दर्ज हो गई।

सहवाग का अपना पिछला सर्वश्रेष्ठ स्कोर 175 रन था, जो उन्होंने इस वर्ष 19 फरवरी को ढाका में बांग्लादेश के खिलाफ 140 गेंदों में बनाया था। अब वह अपने ही स्कोर से मीलों आगे निकल गए। मौजूदा सीरीज में पहले तीन वनडे में सहवाग का बल्ला कुछ खास नहीं कर पाया था, लेकिन इंदौर में जब उनका बल्ला गरजा तो उसकी धमक पूरी दुनिया में सुनाई दी।

सहवाग 149 गेंदों में 25 चौकों और सात छक्कों की मदद से 219 रन बनाकर आउट हुए। उन्हें किरोन पोलार्ड की गेंद पर स्थानापन्न खिलाड़ी ने कैच किया। सहवाग के अब 240 मैचों में 35.66 के औसत से 8025 रन हो गए हैं। इनमें 15 शतक और 37 अर्धशतक शामिल हैं। सहवाग 8000 रन पूरे करने वाले सातवें भारतीय बल्लेबाज हैं। उनसे पहले सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली, राहुल द्रविड़, अजहरूद्दीन और युवराज सिंह यह उपलब्धि हासिल कर चुके हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:वन-डे का बॉस