DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

तिल-तिल कर मरने को मजबूर है ‘ऐश’

वैसे तो उसका नाम ऐश है लेकिन आजकल उसके जीवन में ऐशो-आराम एकदम हराम हो गया है। बात हो रही है ऑस्ट्रेलिया से आए ग्रे हाउंड प्रजाति के कुत्ते ऐश की। यह बेजुबान कागजी प्रक्रिया के पेंच और भ्रष्टाचार के जाल में फंसकर मरणासन्न हालत में पहुंच चुका है।

दरअसल, कानूनी अड़चनों के कारण यह कुत्ता दिल्ली एयरपोर्ट पर 20 गज के एक बदबूदार कबाड़खाने में 40 दिन से पड़ा हुआ है। यहां उसके खाने-पीने की भी व्यवस्था नहीं है। ग्रे हाउंड ऐश ऑस्ट्रेलिया में कई रेस जीत चुका है। उसे ऑस्ट्रेलियाई मालिक जगमीत सिंह सिंधु ने भारत में अपने घर के लिए भिजवाया था। उन्होंने कानूनी प्रक्रिया पूरी की जिस पर करीब 80 हजार रुपये खर्च आया था। ऐश को 1 नवंबर को विमान से भारत भेज दिया गया। लेकिन यहां आकर वह कार्गो टर्मिनल में ही अटककर रह गया।

उसके नए मालिक का कहना है कि एक मंत्रालय की तरफ से एनओसी पाने के लिए उनसे इतनी रिश्वत मांगी जा रही जितनी इस कुत्ते की कीमत होती है। इसलिए उन्होंने इसे न निकालने का फैसला किया। ऐसे में कुत्ते को खाना भी नहीं मिल पा रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:तिल-तिल कर मरने को मजबूर है ‘ऐश’