DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गृहमंत्री चिदंबरम अपने पद से तत्काल इस्तीफा दें: जदयू

दूरसंचार मंत्रालय में 2जी स्पेक्ट्रम आवंटन घोटाले में जांच अदालत द्वारा जनता पार्टी के अध्यक्ष सुब्रह्मण्यम स्वामी की गवाही को दर्ज करने की अनुमति देने के बाद जदयू ने गुरुवार को कहा कि केंद्रीय गृहमंत्री पी चिदंबरम को अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए।

पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता शिवानंद तिवारी ने यहां कहा कि चिदंबरम के खिलाफ गवाह के रूप में जांच अदालत ने 17 दिसंबर को स्वामी को पेश होने की अनुमति दे दी है। पी चिदंबरम के पद पर बने रहने से जांच प्रक्रिया प्रभावित हो सकती है। इसलिए केंद्रीय गृह मंत्री को अपने पद से तत्काल इस्तीफा दे देना चाहिए।

उन्होंने आरोप लगाया कि 2जी स्पेक्ट्रम आवंटन घोटाले को अंजाम देने में पी चिदंबरम और पूर्व दूरसंचार मंत्री ए राजा बराबर के भागीदार हैं। केंद्रीय वित्त मंत्रालय और वित्त सचिव की आपत्ति के बावजूद चिदंबरम ने 2003 के मूल्य पर स्पेक्ट्रम आवंटन को हरी झंडी दे दी थी।

जदयू सांसद ने कहा कि स्वामी ने सीबीआई के संयुक्त निदेशक और वित्त विभाग में संयुक्त सचिव को जांच अदालत के समक्ष गवाह के रूप में पेश करने की अनुमति मांगी है। इस बात की पक्की आशंका है कि चिदंबरम दोनों गवाहों को प्रभावित कर सकते हैं। इसलिए केंद्रीय गृह मंत्री को अपने पद से तत्काल इस्तीफा दे देना चाहिए।

उन्होंने कहा कि इस घोटाले में पी चिदंबरम के कहने पर ही स्वान टेलीकाम और यूनीटेक कंपनी को स्पेक्ट्रम का लाइसेंस प्राप्त हुआ था। सीबीआई ने चिदंबरम से पूछताछ नहीं की है। स्वामी ने जो कागजात सीबीआई से मांगे थे उसे भी जांच एजेंसी उपलब्ध कराने से कतरा रही थी। इस प्रकार चिदंबरम का केंद्रीय मंत्रिमंडल में बने रहने से जांच प्रभावित होगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:गृहमंत्री चिदंबरम अपने पद से तत्काल इस्तीफा दें: जदयू