DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बढ़ेगा टैक्स, घटेगा जाम

राजधानी में वाहनों की बढ़ती संख्या को नियंत्रित करने के लिए नगर निगम ने कंजेशन टैक्स लागू करने का नया फामरूला तैयार किया है। साथ ही स्थायी पार्किग और स्ट्रीट पार्किग फीस बढ़ाने का भी प्रस्ताव है। इससे भीड़भाड़ वाले इलाकों में जाम की समस्या कम होगी और कार्बन उत्सजर्न घटने से पर्यावरण को भी ज्यादा नुकसान नहीं होगा।

नगर निगम के वित्त वर्ष 2011-12 के संशोधित और 2012-13 के अनुमानित बजट में ये प्रस्ताव किए गए हैं। कमिश्नर के. एस. मेहरा ने बुधवार को स्थायी समिति की विशेष बैठक में यह बजट पेश किया। प्रस्ताव के मुताबिक शहरी, करोलबाग और सदर पहाड़गंज क्षेत्र के भीड़भाड़ वाले व्यावसायिक क्षेत्रों में प्रवेश करने वाले वाहनों पर प्रतिदिन के हिसाब से कंजेशन चार्ज लगाएं जाएंगे। इन क्षेत्रों में जिन लोगों की संपत्ति है, उन्हें शुल्क से छूट होगी।

इसके अलावा जुलूस तथा सामाजिक, धार्मिक और राजनीतिक आयोजन करने वालों से सफाई शुल्क भी वसूला जाएगा। निगम यह व्यवस्था इसलिए भी लागू करना चाहता है, ताकि आयोजन के दौरान लोगों द्वारा कचरा फैलानी की प्रवृति पर अंकुश लग सके। इस नियम के तहत अनुमति देते वक्त ही पांच हजार रुपये तक सफाई शुल्क वसूलने का प्रस्ताव है।

पार्किंग शुल्क में दस घंटे तक कार पार्क करने पर 10 रुपये की जगह 30 रुपये देने होंगे। इसी तरह दो पहिया वाहन पर 7 रुपये की जगह 20 रुपये प्रति दस घंटे के लिए देने होंगे। बस, ट्रक, व टूरिस्ट कार की पार्किग शुल्क तीन गुना बढ़ जाएगा। वाहनों की खरीद पर अब पांच हजार रुपये से लेकर बीस हजार रुपये तक की राशि स्ट्रीट पार्किग चार्ज के रूप में चुकानी होगी। निगम ने अपने अधीन में स्थित संपत्तियों पर लगने वाले प्रॉपर्टी टैक्स को बढ़ाने का भी प्रस्ताव रखा है, जिसके अनुसार संपत्ति के वार्षिक मूल्य के अनुसार बनने वाले प्रॉपर्टी टैक्स में 3 से 5 प्रतिशत तक की बढ़ोतरी किए जाने की योजना है।

निगम की स्थायी समिति के अध्यक्ष योगेन्द्र चंदोलिया का कहना है कि बैठक में प्रस्तावों पर गहन चर्चा के बाद ही अंतिम फैसला लिया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बढ़ेगा टैक्स, घटेगा जाम