DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सौर तूफान पहुंचा सकता है चंद्रमा को नुकसान

अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने कहा है कि सौर तूफान तथा सूर्य से उठने वाले अन्य भयंकर लपटों (सीएमई) से चंद्रमा की सतह का क्षरण हो सकता है।

नासा के गोडडार्ड स्पेश फ्लाइट सेंटर के रोजमेरी किलेर की अगुवाई में वैज्ञानिकों के एक दल का कहना है कि चंद्रमा की सतह से विशाल मात्र में पदार्थ हटाने के अलावा सौर तूफान मंगल जैसे ग्रहों के वायुमंडल को भी नुकसान पहुंचा सकता है क्योंकि वह वैश्विक चुंबकीय क्षेत्र से सुरक्षित नहीं है।

सीएमई सूर्य से अंतरिक्ष में निकलने वाला विद्युत आवेशित गैसों का काफी तेज लपट है। ऐसी गैसों को प्लाज्मा भी कहा जाता है। दरअसल चंद्रमा पर वायुमंडल बहुत ही हल्का है जिससे उसके सीएमई प्रभाव के चपेट में आने प्रबल आशंका बनी रहती है।

दल के सदस्य विलियम फरेल ने कहा कि हमने पाया कि जब चंद्रमा पर यह विशाल प्लाज्मा का हमला होता है तब वह रेत में विस्फोट पैदा करने का काम करता है और उसकी सतह से आसानी से उर्ध्वपातित पदार्थ को उड़ा ले जाता है। यह अध्ययन जर्नल ऑफ जियोफिजिकल रिसर्च प्लेनेट में छपा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सौर तूफान पहुंचा सकता है चंद्रमा को नुकसान