DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कप्तानी को लेकर कोई खेद नहीं है पोंटिंग को

रिकी पोंटिंग ने कहा कि आस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम की कप्तानी छोड़ने को लेकर उन्हें कोई खेद नहीं है और उन्होंने कम जिम्मेदारी होने का स्वागत किया है।

पोंटिंग ने 77 टेस्ट में टीम की कमान संभालने के बाद इस साल विश्व कप के बाद टेस्ट और वनडे टीम की कप्तानी छोड़ दी और उनकी जगह माइकल क्लार्क को यह जिम्मेदारी सौंपी गई। इस महीने 37 बरस के होने वाले पोंटिंग बल्लेबाज के रूप में टेस्ट टीम में शामिल हैं और इसी हफ्ते न्यूजीलैंड के खिलाफ होबार्ट के बेलेरीव ओवल में अपने सातवें और संभवत: आखिरी टेस्ट में उतरेंगे। इसी मैदान पर तस्मानिया के साथ 1992 में उन्होंने अपने प्रथम श्रेणी कैरियर की शुरुआत की थी।

नए कप्तान के अंतर्गत खेलने के बारे में पूछने पर पोंटिंग ने प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि कप्तान नहीं होना असल में काफी मजे की बात है। उन्होंने कहा कि मैं सामंजस्य बैठा रहा हूं। उसी तरह से जिस तरह मैंने कप्तान बनने से पहले किया था। मैं बस जितना अधिक संभव हो सके टीम का सर्वश्रेष्ठ सदस्य बनना चाहता हूं।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कप्तानी को लेकर कोई खेद नहीं है पोंटिंग को