DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मोमिन फ्रंट ने मनाया काला दिवस

संवाद सूत्र, पटना। भारतीय मोमिन फ्रंट ने बाबरी मस्जिद विध्वंस का 19वां शहादत दिवस मंगलवार को काला दिवस के रूप में मनाया गया। कारगिल चौक पर आयोजित कार्यक्रम में फ्रंट के राष्ट्रीय अध्यक्ष डा. महबूब आलम अंसारी ने कहा कि हम सभी को भारतीय होने पर गर्व है। लेकिन आज हमारा देश सांप्रदायिकता, भेदभाव व भ्रष्टाचार के जाल में फंस गया है।

इस मौके पर डा. एमए नवाब, महेश गोप, देवेन्द्र कुमार सिंह, प्रो. इजहारुल हक, अख्तर नेहाल, धर्मदेव साव, महबूब आलम, मो. तनवीर आलम, मो. जुनैद अंसारी आदि मौजूद थे। मुस्लिम यूनाइटेड फ्रंट की ओर से बाबरी विध्वंस दिवस को राष्ट्रीय शर्म दिवस के रूप में मनाया गया। फ्रंट के उपाध्यक्ष रईस आजम ने कहा कि उन्नीस वर्ष बीत जाने के बाद भी बाबरी मस्जिद को तोडने वालों को सजा नहीं मिली है।

इस अवसर पर अरशद जमील, जावेद इमाम, मो. अशरफ अंसारी, मो. छोटू, सरफराज निहाल, मो. जहांगीर, मो. मोमताज, मो. शाहिद खान आदि मौजूद थे। बिहार प्रदेश राष्ट्रवादी कांग्रेस की ओर से बाबरी मस्जिद विध्वंस की स्मृति में साम्प्रदायिकता रूपी दानव का पुतला दहन किया गया।

वक्ताओं ने कहा कि 6 दिसम्बर भारतीय लोकतांत्रिक इतिहास का एक काला अध्याय है। इस मौके पर पार्टी के प्रदेश महासचिव शकील अहमद, शिवम कुमार सिन्हा, चन्द्रशेखर सिंह, रामभजन सिंह निषाद व पारस कुमार आदि मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मोमिन फ्रंट ने मनाया काला दिवस