DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

करीमुद्दीनपुर उपकेन्द्र के तीन बिजलीकर्मियों पर मुकदमा

गाजीपुर, हिन्दुस्तान संवाद। शटडाउन के बावजूद बिजली आपूर्ति चालू करने से हुई प्राइवेट लाइनमैन की मौत के मामले में मृतक के भाई ने तीन विभागीय कर्मचारियों को नामजद किया है। तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज करने के बाद पुलिस छानबीन में जुट गयी है। उधर, ग्रामीणों के आक्रोश को देखते हुए विद्युतकर्मियों ने दूसरे दिन भी उपकेन्द्र का ताला नहीं खोला ।

करीमुद्दीनपुर चट्टी पर लगे ट्रांसफॉर्मर से हाईटेंशन तार जोड़ने के दौरान अचानक आपूर्ति शुरू किये जाने से बथोर गांव निवासी प्राइवेट लाइनमैन हरखमुनि कुशवाहा की मौत हो गयी। ग्रामीणों ने उपकेन्द्रकर्मियों को इसके लिए जिम्मेदार बताते हुए हंगामा मचाया था। एसडीएम के मुआवजा देने के आश्वासन पर लोग शांत हुए थे। मृतक के भाई जीतनारायण ने पुलिस को तहरीर देते हुए उपकेन्द्र के तीन कर्मचारियों को नामजद किया है। इसमें एसएसओ रामदरश, लाइनमैन प्रभुनाथ ओझा व कुशल श्रमिक विजय राय शामिल हैं। तहरीर के आधार पर पुलिस ने धारा 304-ए के तहत मुकदमा पंजीकृत कर लिया है।

थानाध्यक्ष शमीम अहमद कहना है कि मामले की जांच की जा रही है। मंगलवार को भी कोई बिजलीकर्मी उपकेन्द्र पर नहीं पहुंचा। जेई कमलेश श्रीवास्तव ने बताया कि कर्मचारी सहमे हुए हैं। बुधवार से उपकेंद्र खोलवाया जायेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:करीमुद्दीनपुर उपकेन्द्र के तीन बिजलीकर्मियों पर मुकदमा