DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

किशोरी का सुराग नहीं, चालक गिरफ्तार

हिन्दुस्तान प्रितिनिध, पटना । बीते अगस्त माह से गुमला की रहने वाली किशोरी सुनीता के गायब होने के चार महीने बाद पुलिस ने एक चालक को िगरफ्तार किया है। चालक पर लड़की को गायब कर देने का आरोप है।

दरअसल आरा का रहने वाला कृष्णा तिवारी कुर्जी मोड़ पर स्थित आरबीआई के अपार्टमेंट आता-जाता था। यहां उसकी मुलाकात अपार्टमेंट के गार्ड अशोक भेंगड़ा से हुई। समय बीतने के साथ दोनों के बीच दोस्ती गहरी हो गयी। कृष्णा ने अशोक से एक ‘बड़े साहब’ को नौकरानी देने के नाम पर नौकरानी के बारे में पूछा।

कुछ दिन बाद अशोक ने गुमला की रहने वाली 14 साल की किशोरी को लाकर उसके हवाले कर दी। कृष्णा उसे काम पर रख आया। कुछ दिन बाद जब किशोरी के माता-िपता उसकी तलाश करते हुए पटना पहुंचे तो कृष्णा ने उन्हें उसका पता नहीं बताया। इसके बाद वह फरार हो गया। मामला पुिलस तक पहुंचने के बाद तहकीकात शुरू हुई।

पाटिलपुत्र थानाध्यक्ष जीएन मिश्रा ने मंगलवार को आरोपित को धर दबोचा। पकड़े जाने के बाद उसने बताया कि किशोरी मुजफ्फरपुर के रहने वाले रियाजुद्दीन नाम के व्यिक्त के घर पर है। तत्काल पुलिस टीम मुजफ्फरपुर के लिए रवाना हुई। चालक के बताए पते पर पहुंचने के बाद रियाजुद्दीन के घर पर ताला लटका मिला। आसपास के लोगों ने बताया कि वे छुट्टी में अपने घर गए हैं।

पुलिस के मुताबिक रियाजुद्दीन सरकारी नौकरी में हैं। पुलिस मामले की छानबीन कर लापता किशोरी को बरामद कररने में जुटी हुई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:किशोरी का सुराग नहीं, चालक गिरफ्तार