DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

घाटों और मॉल में सघन चेकिंग अभियान बम निरोधक दस्ता और

वाराणसी, कार्यालय संवाददाता। छह दिसंबर और शीतला घाट धमाके की बरसी की पूर्व संध्या पर मंगलवार को दशाश्वमेध और शीतला घाट के अलावा शहर के प्रमुख घाटों पर चेकिंग अभियान चलाया गया। दोपहर एक बजे दल-बल के साथ पहुंचे एडीएम सिटी और एसपी सिटी ने लगभग घंटे भर तक घाटों पर चेकिंग अभियान चलाया।

इसके बाद सिगरा और लक्सा स्थित मॉल में भी जांच की गई। दोपहर एक बजे लाव-लश्कर के साथ पहुंचे एडीएम सिटी एमपी सिंह और एसपी सिटी मानसिंह चौहान ने घाटों की सघन जांच शुरू कराई। लगभग घंटे भर की जांच के दौरान चौकियों को टटोला गया। इस दौरान बिना पहचान पत्र घाट पर फोटोग्राफी कर रहे कई लोगों को खदेड़ दिया गया। एसपी सिटी ने स्पष्ट निर्देश दिए कि बिना पहचान पत्र किसी को भी घाट पर फोटोग्राफी की इजाजत नहीं दी जाए।

जांच के दौरान उन्होंने घाट पर लगे डोर फ्रेम मेटल डिटेक्टर की भी जांच की। दोनों अधिकारियों ने इसके बाद लक्सा और सिगरा स्थित मॉल में भी जांच अभियान चलाया। खासकर पार्किंग में खड़े वाहनों की बीडीएस और डॉग स्क्वायड से जांच कराई गई।अधिकारियों को देखते ही हटाए खराब कैमरेवाराणसी। घाटों की सुरक्षा को लेकर जल पुलिस कितनी सजग है, इसका मुजाहिरा मंगलवार को घाट पर जांच अभियान के दौरान नजर आया।

अधिकारियों के पहुंचने के बाद शीतला घाट पर लगा खराब आटो डोम कैमरा जल्दी से उतरवा लिया गया ताकि उस पर अधिकारियों की निगाह न पड़े। 2010 में शीतला घाट पर धमाके के बाद आईजी रेंज आरपी सिंह ने घाट और दशाश्वमेध मार्ग को सीसीटीवी कैमरों से लैस करने के लिए शासन को प्रस्ताव भेजा था। प्रस्ताव स्वीकृत हुआ और महीने भर में घाट और आसपास के क्षेत्रों में नौ सीसीटीवी कैमरे लगाए गए। दशाश्वमेध और शीतला घाट पर हाईमास्ट लाइट के नीचे दो आटो डोम कैमरे लगाए गए। रखरखाव के अभाव में जल्द ही यह कैमरे खराब हो गए। दो महीने पहले घाटों का निरीक्षण करने पहुंचे आईजी ने इनकी मरम्मत कराने के निर्देश दिए थे। निर्देशों पर मातहतों ने कितना ध्यान दिया यह काबिले गौर है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:घाटों और मॉल में सघन चेकिंग अभियान बम निरोधक दस्ता और