DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नक्सल प्रभावित राज्य सुरक्षा कड़ी करें: केन्द्र

झारखंड और बिहार में माओवादी हिंसा में अचानक हुई बढ़ोतरी से चिन्तित केन्द्र ने सोमवार को नक्सल प्रभावित राज्यों से कहा कि वे सुरक्षा इंतजाम कड़े करें और सभी संवेदनशील स्थानों पर अतिरिक्त सुरक्षा बल तैनात करें।

सरकारी सूत्रों ने बताया कि केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने छत्तीसगढ़, झारखंड, बिहार, उडीसा, पश्चिम बंगाल और महाराष्ट्र की सरकारों से कहा है कि वे रेलवे स्टेशन, बस अड्डों, सडकों, पुलों, स्कूलों और अन्य सार्वजनिक स्थानों पर सुरक्षा कडी़ करें क्योंकि माओवादी इन स्थानों को विस्फोट से उड़ाने की योजना बना रहे हैं।
 
इस बीच खुफिया सूत्रों ने बताया कि माओवादी नेता कोटेश्वर राव उर्फ किशनजी के मुठभेड़ में मारे जाने के बाद ही खुफिया जानकारी मिली थी कि नक्सल सार्वजनिक स्थानों पर हमले करेंगे और सुरक्षाबलों को भी निशाना बनाने की कोशिश करेंगे।

राज्यों और रेलवे से कहा गया है कि वे रेल पटरियों और रेलवे स्टेशनों पर अतिरिक्त सुरक्षाबल तैनात करें ताकि माओवादियों के किसी संभावित हमले से बचा जा सके। कल ही नक्सलियों ने झारखंड में रेलवे पटरी को विस्फोट से उड़ाया जबकि बिहार के औरंगाबाद जिले में एक मोबाइल टावर को आग लगा दी।

गृह मंत्रालय ने सुरक्षा जवानों से कहा है कि वे नक्सलियों के खिलाफ अभियान में एक जगह से दूसरी जगह जाने के दौरान पूरी एहतियात बरतें क्योंकि माओवादी उन पर बमों से हमला कर सकते हैं या फिर घात लगाकर गोलियों की बौछार भी कर सकते हैं।

भाकपा-माओवादी ने अपने नेता किशनजी के मारे जाने के विरोध में देश भर में दो दिवसीय बंद का आह्वान किया था। इसी परिप्रेक्ष्य में केन्द्र ने नक्सल प्रभावित राज्यों को सुरक्षा कड़ी करने के लिए कहा है। माओवादियों ने शनिवार को झारखंड के लातेहर जिले में सांसद इंदर सिंह नामधारी के काफिले पर हमला बोला, जिसमें दस पुलिसकर्मी और एक आठ साल का बच्चा मारा गया।

नक्सलियों ने मारे गए और घायल पुलिसकर्मियों से दो एसएलआर और आठ इन्सास राइफले, 900 राउंड गोलियां और एक वायरलेस सेट लूट लिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नक्सल प्रभावित राज्य सुरक्षा कड़ी करें: केन्द्र