DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कुछ तो राहत

स्कूल प्रबंधन ईमानदार रहे तो दाखिला न लेने पर पैसे वापसी का निर्देश अभिभावकों को राहत दिलाएगा। अभी तो अधिकतर स्कूल पैसे लेते वक्त हाथ खुले रखते हैं लेकिन लौटाना पड़े तो कई किंतु-परंतु लगाते हैं। बच्चे को बेहतर स्कूल में पढ़ाने की इच्छा हर मां-बाप की होती है। लेकिन स्कूलों में एडमिशन टेढ़ी खीर की तरह है।

अभी तो आम तौर पर होता यह है कि स्कूल प्रबंधन जितने पैसे लेते हैं, उनमें से कभी-कभी 25 फीसदी की ही रसीद देते हैं। डेवलपमेंट फंड-जैसे कई मद की रसीद बच्चों को दी ही नहीं जाती। अभिभावक इसलिए मजबूर रहते हैं कि उसी जगह पढ़ाना है तो विरोध कर बच्चे का भविष्य क्यों बिगाड़ें? नए नियम से कुछ राहत मिलेगी!

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कुछ तो राहत