DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जब देव साहब ने रफी के लिए गाया

यह तो सभी जानते हैं कि रफी साहब ने देव साहब की बहुत सारी फिल्मों में उनके सदाबहार गानों को अपनी आवाज दी है, लेकिन इस बात की जानकारी बहुत कम लोगों को होगी कि इन दोनों ने 1966 में बनी फिल्म प्यार मोहब्बत में साथ गाया है।

सदाबहार नायक देवानंद ने इसके बारे में इसी साल 31 जुलाई को आयोजित रफी की 31वीं पुण्यतिथि पर लोगों के साथ सांझा किया था। देव साहब का रविवार सुबह ही निधन हो गया। देव साहब ने उस समारोह में कहा था कि वह रफी की आवाज के प्रशंसक थे और उन्हें वह पसंद थे।

देवानंद ने टि्वटर पर लिखा था कि मैंने कभी गाना नहीं गाया। लेकिन रफी के गाने प्यार मोहब्बत के सिवा ये जिंदगी क्या जिंदगी में जो ..है वह मेरी आवाज है। मैंने बस उतना ही गाया। उन्होंने कभी अपने टि्वटर के पन्ने पर लिखा था, रफी अमर हैं हम उन्हें हमेशा अपने पास, अपने दिलों और आत्मा में महसूस करते हैं। मैं उनकी आवाज का कायल हूं।

टि्वटर पर लिखे अपने कई कमेंट में देव साहब ने रफी के बारे में लिखा था, रफी बेहद शांत और अच्छे व्यक्ति थे। रफी साहब ने उनकी कई फिल्मों जैसे ज्वेल थीफ (1967), मन पसंद (1980), गाइड (1965) में अपनी आवाज दी थी। देवानंद ने लिखा, ज्वेल थीफ के गाने दिल पुकारे आ रे आ रे आ रे.. और मेरे अनुसार उन्होंने मेरे लिए अंतिम गाना मन पसंद फिल्म में लोगों का दिल गाया था। उन्होंने लिखा था, उन्होंने मेरे लिए कई बहुत अच्छे गाने गाए हैं जैसे जिया ओ जिया कुछ बोल दो। इसके अलावा भी बहुत सारे अच्छे गाने हैं मैं सबके बारे में नहीं लिख सकता।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जब देव साहब ने रफी के लिए गाया