DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

देश के हित में नहीं हैं केन्द्र की नीतियां: वेणुगोपाल

प्रधान संवाददाता पटना। केन्द्र सरकार की आर्थिक नीतियां देश और देशवासियों दोनों के हित में नहीं है। नवउदारवाद की आंधी में केन्द्र ने निजीकरण को तेजी से बढ़ावा दिया है। ये बातें ऑल इंडिया इंश्योरेंस इम्प्लाइज एसोसिएशन के महासचिव के वेणुगोपाल ने शनिवार को इंश्योरेंस इम्प्लाइज एसोसिएशन पटना डिविजन 2 के स्थापना दिवस दिवस के मौके पर आयोजित आईईएपीडी का तीन दिवसीय सम्मेलन में कहीं।

उन्होंने कहा कि संसद के शीतकालीन सत्र में प्रस्तावित बीमा संशोधन विधयक 2008 और एलआईसी एक्ट संशोधन विधेयक 2009 का हर हाल में विरोध किया जाएगा। इस मौके पर ईसीजेडआईईए के महासचिव श्रीकांत मिश्र ने कहा कि खुदरा क्षेत्र में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश की सीमा में वृद्धि के केन्द्रीय कैबिनेट के फैसले का असर पूरे देश की अर्थव्यवस्था पर पड़ेगा।

उन्होंने कहा कि देश की जनता के बजाय केन्द्र बहुराष्ट्रीय कंपनियों के हितों की रक्षा में लगी है। समारोह को आईईएपीडी के महासचिव ओम प्रकाश, नीजर कुमार समेत अन्य लोगों ने संबोधित किया। इससे पहले इंश्योरेंस इम्प्लाइज एसोसिएशन पटना डिविजन 2 की नई कार्यकारिणी का चयन किया गया।

अजय कुमार सिंह अध्यक्ष, विशाल शरण महासचिव और धमेन्द्र कुमार कोषाध्यक्ष चुने गए। इस मौके पर ऑल इंडिया इंश्योरेंस इम्प्लाइज एसोसिएशन के महासचिव के वेणुगोपाल को भी सम्मानित किया गया। वेणुगोपाल सितंबर में एलआईसी से सेवानिवृत हुए हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:देश के हित में नहीं हैं केन्द्र की नीतियां: वेणुगोपाल