DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नर्सिग होमों के विरुद्ध दर्ज होगी एफआईआर

सैयद राजा (चंदौली) हिन्दुस्तान संवाद। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. एमपी चौरसिया ने शनिवार को नगर के तीन नर्सिग होमों पर छापेमारी की कार्रवाई की। छापे के दौरान मरीजों का आपरेशन किया जा रहा था। दवाएं भी रखी गयी थीं लेकिन संचालक चिकित्सक दवा और नर्सिग होमों के रजिस्ट्रेशन आदि के संबंध में कोई कागजात नहीं दिखा सके। उन्होंने तीनों नर्सिग होमों के खिलाफ कारण बताओ नोटिस जारी की। इस संबंध में सीएमओ ने बताया कि अगर नोटिस का समुचित जवाब नहीं मिला तो संबंधित नर्सिग होमों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर कार्रवाई की जायेगी। सीएमओ की कार्रवाई से अवैध ढंग से नर्सिग होम चलाने वाले संचालकों में हड़कंप मच गया है।

सीएमओ डा. एमपी चौरसिया ने डिप्टी सीएमओ एचआर मौर्य के साथ शनिवार को सैयदराजा प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र का निरीक्षण करने आये थे। निरीक्षण के दौरान वह डा. गोपाल सिंह को निर्देश दे रहे थे कि उन्हें सूचना मिली कि नगर में कई स्थानों पर नर्सिग होमों में बिना कागजात के गंभीर रोगों का आपरेशन कर इलाज किया जा रहा है। बिना लाइसेंस दवाओं की बिक्री भी हो रही है। वे तत्काल टीम के साथ सोगाईं रोड स्थित केआर क्लीनिक पहुंचे जहां चार हार्निया तथा हाइड्रोसिल के मरीजों का आपरेशन कर इलाज किया जा रहा था। इसी क्रम में भतीजा रोड स्थित सद्गुरु सेवा समिति हास्पिटल पहुंचे जहां मरीज तो कोई नहीं मिला लेकिन बिना लाइसेंस दवा बेची जा रही थी। उत्तरी बाजार दुधारी चौराहा स्थित सत्यम पाली क्लीनिक में मरीज तो कई मिले लेकिन यहां भी बेची जा रही दवाओं का कागजात नहीं मिला। उन्होंने सभी नर्सिग होमों के खिलाफ नोटिस जारी की। ंं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नर्सिग होमों के विरुद्ध दर्ज होगी एफआईआर