DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नए साल में वोल्वो से सुहाना सफर

रांची, आशुतोष सिंह। नए साल में झारखंडवासी खुशियों का सफर लक्जीरियस वोल्वो बस से करेंगे। धनबाद की एक निजी कंपनी ने इसके लिए क्षेत्रीय परिवहन प्राधिकार में परमिट के लिए आवेदन दिया है। प्राधिकार के अध्यक्ष सह दक्षिण छोटानागपुर के आयुक्त सत्येंद्र सिंह से कंपनी के लोगों ने मिल कर उन्हें बसों के बारे बताया है।

आयुक्त ने सकारात्मक कार्रवाई को आश्वासन भी दिया है। खास बात यह है कि वोल्वो से सफर में गड्ढों से बस के गुजरने पर यात्रियों को जरा भी झटका नहीं लगेगा। साथ ही बस में हर सीट के पीछे विमान की तरह अखबार भी उपलब्ध रहेगा। सफर के दौरान यात्रियों को नाश्ता भी मिलेगा।

ऐसा इसलिए कि बस की टाइमिंग सुबह और शाम की है। बस का रांची से घनबाद का किराया 350 रुपए फिलहाल रखा गया है। कंपनी द्वारा छह बोल्वो बस का आर्डर दिया गया है। अभी सिर्फ एक ही बस उपलब्ध हो पाई है। यह बस पूरी तरह से निजी रूप से परिचालित होगी।

बिहार से रांची के लिए भी वोल्वो बसों का परिचालन अप्रैल से ही बिहार राज्य पथ परिवहन निगम द्वारा अनुबंध पर शुरू किया जाना था। लेकिन बस उपलब्ध नहीं रहने के कारण यह सेवा अब तक शुरू नहीं हो पाई है।

वापसी में जमशेदपुर से यह बस 3.50 बजे खुलेगी और रांची 5.50 बजे पहुंचेगी। बोकारो 8.35 पर और धनबाद 9.40 बजे रात में पहुंच जायेगी। कोयला कोर की क्षमता बढ़ाने को लेकर एमओयूरांची। कोयला कोर की क्षमता बढ़ाने के लिए सीएमपीडीआइ ने कौंसिल ऑफ साइनटिफिक एंड इंडस्ट्रीयल रिसर्च के साथ शनिवार को एमओयू किया।

सीएमपीडीआइ के सीएमडी एके सिंह और सिम्फर के निदेशक डॉ अमलेंदु सिन्हा ने एमओयू पर हस्ताक्षर किया। इस एमओयू के तहत कोल इंडिया लिमिटेड तीन वर्ष की अवधि के लिए 255000 मी. कोयला कोर के विश्लेषण के लिए सीएसआइआर प्रयोगशाला को 19.31 करोड़ रुपए देगा।

मौके पर सीएमपीडीआइ के निदेशकर डीके घोष, मुख्य महाप्रबंधक केसी मौली, विनय दयाल, नइम अहमद, एके सोनी, एचके मिश्र, सिम्फर की ओर से वैज्ञानिक केके गुप्ता, अशोक सिंह तथा नंदिता चौधरी समेत अन्य लोग मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नए साल में वोल्वो से सुहाना सफर