DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

तिब्बतियों के गले में तख्तियां लटकाकर चीन में कराई परेड

चीनी सुरक्षा बलों ने गिरफ्तार किए गए तिब्बतियों के गले में तख्तियां लटकाकर परेड कराई है। तख्तियों में उनके नाम और अलगाववाद जैसे उनके कथित अपराध लिखे हुए हैं। फ्री तिब्बत अभियान समूह यंगछप की ओर से शनिवार को प्रकाशित तस्वीरों में इस बात का खुलासा हुआ है।

लंदन आधारित संगठन के मुताबिक चीनी असंतुष्टों की वेबसाइट बॉक्सन कॉम ने शुक्रवार को बताया कि जातीय तिब्बती प्रशासनिक क्षेत्र गांजी और सिचुआन प्रांत के अबा में यह तस्वीरें ली गईं। फ्री तिब्बत ने बताया कि हालांकि इस बारे में जानकारी नहीं दी गई है यह घटना कहां और कब हुई।

सिचुआन में तिब्बती बहुल इन इलाकों में कई बौद्ध भिक्षुओं और ननों ने चीन के धार्मिक अत्याचार से तंग आकर सिलसिलेवार रूप से हाल ही में आत्मदाह किया था।
एक तस्वीर में मौजूद दृश्य में सशस्त्र और हेलमेट पहने अर्धसैनिक बल ने बौद्ध भिक्षुओं की गर्दन को पीछे से पकड़ रखा है, उनके सिर झुका दिए गए हैं।

फ्री तिब्बत के मुताबिक लोबसांग जोपा नाम के एक बौद्ध भिक्षु के गले में लटका रखी तख्ती पर उसका नाम और अलगाववादी शब्द लिखा हुआ है। अलगाववादियों गतिविधियों में लिप्त रहने में दोषी साबित होने पर चीन में उम्रकैद की सजा का प्रावधान है।

वहीं, एक अन्य तस्वीर में पुलिसकर्मी हिरासत में लिए गए नागरिकों को पीछे से उनकी बांह मरोड़कर पकड़े हुए हैं ताकि उनके सिर को नीचे झुकाया जा सके। एक अन्य तस्वीर में तिब्बतियों को घुटने के बल बैठा हुआ दिखाया गया है। उनके गले में लटकी तख्तियों में चीनी भाषा में उनके नाम और अलगाववादी होने के आरोप लिखे हुए हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:तिब्बतियों के गले में तख्तियां लटकाकर चीन में कराई परेड