DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वैकल्पिक रूट पर डायवर्ट हुई ट्रैफिक

वरीय संवाददाता पटना। गुरुवार को दिन के साढे 12 बजे डाकबंगला चौराहे पर बंद समर्थकों ने कब्जा जमा लिया। सड़क पर आंदोलनकारी अपने-अपने तरीके से विरोध और गुस्से का इजहार करने लगे। नतीजतन चौराहे से जुड़ी सभी सड़कों पर एक साथ जाम लग गया। लंबी दूरी तक वाहनों की कतार लग गई।

पहले से इस आशंका को देखते हुए पुलिस ने खास रणनीति बना रखी थी। पहले तो बंद समर्थकों की कम संख्या के बीच निर्धारित रूट पर ही ट्रैफिक को धीरे-धीरे बढ़ाया गया। जब आंदोलनकारियों की भीड़ बढ़ी तो वैकल्पिक रूट पर ट्रैफिक को डायवर्ट कर दिया गया।

इससे लोगों को गंतव्य तक पहुंचने में भले ही दूरी बढ़ गई पर फजीहत काफी कम हो गई। कोतवाली टी से एक्जीबिशन रोड चौराहा की ओर जा रहे वाहनों को पेट्रोल पंप के सामने के रास्ते से फ्रेजर रोड के रास्ते गांधी मैदान होते हुए जाने का रास्ता दिया गया।

गांधी मैदान से फ्रेजर रोड होकर जंक्शन गोलंबर की ओर जा रहे टेम्पो व अन्य वाहनों को चौराहा से बाएं न्यू डाकबंगला रोड, जमाल रोड होकर निकाला गया। एक्जीबिशन रोड चौराहा से आयकर गोलंबर की ओर जा रहे वाहनों को डाकबंगला से जंक्शन गोलंबर की तरफ मोड़ दिया गया।

तारामंडल मोड़ और कोतवाली टी के पास से वाहनों को म्यूजिम, बुद्ध मार्ग के रास्ते गांधी मैदान की ओर निकाला गया। सड़कों पर अचानक वाहनों का दबाव बढ़ने के कारण विशेषकर बड़ी वाहनों रिंग सर्विस, नगर सेवा की बसों या स्कूल बसों को आने-जाने में परेशानी बढ़ गई जिससे लोग हलकान रहे। ‘पीक आवर’ में जाम की हालत देख कर डाकबंगला से गांधी मैदान और स्टेशन के बीच पैदल ही आने-जाने वाले लोगों की भी खासी तादाद थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:वैकल्पिक रूट पर डायवर्ट हुई ट्रैफिक