DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एफडीआई के विरोध में बंद से हिमाचल में जनजीवन प्रभावित

खुदरा क्षेत्र में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) की अनुमति के विरोध में हिमाचल प्रदेश में गुरुवार को दुकानें व व्यवसायिक प्रतिष्ठान बंद रहे। राज्य में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) व मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के कार्यकर्ता व व्यापारी केंद्र सरकार के इस कदम का विरोध कर रहे हैं।

वैसे राज्य में बंद से यातायात व्यवस्था प्रभावित होने की खबर नहीं है। यहां पुलिस मुख्यालय में एक अधिकारी ने बताया कि किसी भी हिस्से से हिंसा की कोई खबर नहीं है। शिमला में 6,000 से ज्यादा दुकानदारों ने दुकानें बंद रखी हैं।

शिमला व्यापार मंडल के अध्यक्ष रमेश सूद ने बताया, ''हमने अपनी एकजुटता प्रदर्शित करने के लिए एक दिन के लिए दुकानें बंद रखने का निर्णय लिया।'' वैसे उन्होंने कहा कि दवाओं व खाने-पीने की वस्तुओं की दुकानों को बंद से बाहर रखा गया है।

माकपा की राज्य इकाई के नेता तिकेंदर पंवार का कहना है, ''पार्टी ने इस निर्णय का विरोध किया है क्योंकि इससे छोटे खुदरा व्यवसाइयों की जीविका प्रभावित होगी और खुदरा क्षेत्र में बहुराष्ट्रीय कम्पनियों का एकाधिकार हो जाएगा।''

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:एफडीआई के विरोध में बंद से हिमाचल में जनजीवन प्रभावित