DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

स्कूलों के 100 मीटर के दायरे में बिक रहा तंबाकू

स्कूलों के बाहर 100 मीटर के दायरे में तंबाकू उत्पाद की बिक्री पर प्रतिबंध के बाद भी 48 प्रतिशत स्कूल अब भी तंबाकू की जद में हैं, यही नहीं इन दुकानों की वजह से हर साल 5,500 स्कूली छात्र किशोरावस्था में ही तंबाकू का सेवन शुरू कर देते हैं। यह खुलासा ग्लोबल यूथ टोबेको सर्वे के तहत हुआ है। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के सहयोग से किए गए सर्वे में 557 शैक्षणिक संस्थानों का दौरा किया गया।

सर्वेक्षण के अनुसार स्कूल जाने वाले 37 प्रतिशत किशोर कम उम्र में ही तंबाकू का इस्तेमाल इसलिए शुरू कर देते हैं, क्योंकि उन्हें यह आसानी से उपलब्ध हो जाता है। जिसमें से 51.7 प्रतिशत छात्र क्योस्क या स्टोर से सिगरेट के रूप में तंबाकू खरीदते हैं। पांच प्रमुख जनपदों में किए गए अध्ययन में 557 शैक्षणिक संस्थानों को शामिल किया गया, जिसमें उत्तर प्रदेश में सहारनपुर, राजस्थान में झुनझुनू, उड़ीसा में जगत सिंह पुर, जम्मू और कश्मीर में बड़गाम और असम में गोलाघाट जिले को शामिल किया गया। वॉलेंटरी हेल्थ एसोसिएशन ऑफ इंडिया की कार्यकारी निदेशक डॉ. भावना बी मुखोपाध्याय कि अध्ययन के समय देखा गया कि स्कूल में लगाई गई कैंडी और कोला की दुकानों के साथ ही तंबाकू उत्पाद बेचने भी बेचा जा रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:स्कूलों के 100 मीटर के दायरे में बिक रहा तंबाकू