DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पहली पत्नी को मारा, दूसरी को घर से निकाला

मैनपुरी, हिन्दुस्तान संवाद। उसने भरपूर दहेज न मिलने पर पत्नी को जलाकर मार डाला। न्यायालय ने उसे व उसकी मां को जेल भेज दिया। जेल से रिहा होने के बाद उसकी दूसरी शादी हो गयी, लेकिन दहेज की भूख फिर भी शांत न हुयी। दहेज कम मिलने पर उसने अपनी दूसरी पत्नी को भी घर से निकाल दिया। अब वह तीसरी शादी करने पर आमादा है। दूसरी पत्नी के परिजनों ने जानकारी मिलने पर शादी तो रुकवा दी है, लेकिन अब वह पत्नी के परिजनों को झूठे मुकदमे में जेल भिजवाने की धमकी दे रहा है। परिजनों ने एसपी से आरोपी के विरुद्ध कार्रवाई की गुहार लगाई है।

मामला कोतवाली क्षेत्र की बैंक कालोनी निवासी रामप्रकाश दुबे से जुड़ा है। रामप्रकाश दुबे ने एसपी को भेजे शिकायती पत्र में शिकायत की है कि उसने अपनी पुत्री कल्पना की शादी बेवर कस्बा निवासी मोहित दुबे पुत्र महेन्द्र दुबे से 9 जून 2009 को की थी। उन्होंने शादी में यथासंभव दहेज भी दिया, लेकिन अब मोहित ने उसकी पुत्री कल्पना को दहेज न मिलने पर घर से निकाल दिया है। इसका मुकदमा भी न्यायालय में विचाराधीन है, लेकिन मोहित ने इसकी परवाह न कर 15 दिसम्बर को अपनी शादी तय कर ली।

जब उन्हें जानकारी हुयी तो उन्होंने बेवर जाकर शादी तो रुकवा दी है, लेकिन अब वह विभिन्न उच्चाधिकारियों को शिकायती पत्र देकर उन्हें व उनकी पुत्री को जेल भिजवाने और जान से मारने की धमकी दे रहा है। पीडिम्त ने एसपी से न्याय की गुहार लगाई है। पीडिम्त का कहना है मोहित की पहली शादी वर्ष 2007 में एटा जनपद निवासी उपमा से हुयी थी। कम दहेज मिलने पर मोहित और मोहित की मां ने उपमा को जलाकर मार डाला था जिसमें मां-बेटे को जेल भी हो चुकी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पहली पत्नी को मारा, दूसरी को घर से निकाला