DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुख्यमंत्री के सुरक्षाकर्मियों पर मुकदमे दर्ज का आदेश

 गाजियाबाद। वरिष्ठ संवाददाता। गोमती एक्सप्रेस में मुसाफिरों से मारपीट करना छह पुलिसकर्मियों पर भारी पड़ गया। इस मामले में कोर्ट ने जीआरपी को आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करने के आदेश दिए हैं। पीडिम्त पक्ष का आरोप है कि सभी पुलिसकर्मी मुख्यमंत्री की सुरक्षा में तैनात हैं। दिल्ली के पुरानी सीमापुरी निवासी मज्जिम हुसैन ने सीजेएम कोर्ट में प्रार्थना पत्र देकर मुख्यमंत्री की सुरक्षा में लगे पुलिसकर्मियों के खिलाफ मारपीट का मुकदमा दर्ज करने की मांग की थी।

अधिवक्ता अयूब अली के मुताबिक, फीरोजाबाद से मज्जिम के भाई महफूज, मारूफ, मशरूफ, भांजा नवाज खां तथा रिश्तेदार अनवर खां सवार हुए। बोगी डी-6 में सभी का आरक्षण था। इसी बोगी में सब इंस्पेक्टर बेचई प्रसाद, राजेश कुमार, हेड कांस्टेबल विद्या सागर, रविंद्र, सिपाही भया लाल एवं संतोष कुमार समेत कुछ अन्य पुलिसकर्मी पहले से ही मौजूद थे। पुलिसकर्मियों पर आरोप है कि सभी लोग नशे में थे तथा गालियां दे रहे थे।

टोकने पर पुलिसकर्मियों ने मुसाफिरों के साथ मारपीट की। अधिवक्ता अयूब अली ने बताया कि इस मामले में कोर्ट ने आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करने के आदेश दिए हैं। साथ ही सात दिन के अंदर कार्रवाई से कोर्ट को अवगत कराने को कहा है। सनद रहे कि पीडिम्तों ने इस मामले को लेकर जीआरपी थाने में नौ नवंबर को ही तहरीर दे दी थी।------------------

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मुख्यमंत्री के सुरक्षाकर्मियों पर मुकदमे दर्ज का आदेश