DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डेलापीर तालाब को पाटने में निगम के ठेले का इस्तेमाल

मुआयने के बाद नगर आयुक्त ने दिया डलावघर बनाने के निर्देशबरेली। कार्यालय संवाददाताडेलापीर तालाब को पाटने के लिए कूड़ा नगर निगम के ही ठेले से डाला जा रहा है। बुधवार को मुआयने में यह देखकर नगर आयुक्त चौंक गए। समस्या के समाधान के लिए उन्होंने सप्ताह भर में तालाब के बराबर डलावघर बनवाने का निर्देश दिया है। नगर आयुक्त अबरार अहमद ने सफाई व्यवस्था का हाल देखने के लिए बुधवार को शहर का मुआयना किया। सप्ताह भर पहले सुधार के लिए दिए गए निर्देशों का इस बार भी कोई असर नजर नहीं आया। डेलापीर तालाब को पाटने के लिए कूड़ा डालने का सिलसिला जारी है। खास बात यह रही कि बुधवार को मौके पर नगर निगम बरेली लिखा एक ठेला भी पकड़ा गया। पूछताछ की गई तो पता चला कि कूड़ा डालने वाला रमेश कुमार नाम का व्यक्ति पड़ाेस की कॉलोनी का प्राइवेट सफाईकर्मी है। बताया गया कि ठेले नगर निगम ने कई कॉलोनियों को उपलब्ध कराए थे। कॉलोनी के लोग सफाई खुद कराते हैं। कूड़ा डालने के लिए कुछ वर्ष नगर निगम ने ठेले उपलब्ध कराए थे। नगर आयुक्त ने बताया कि तालाब में कूड़ा डालना गलत है। इसे रोकने के लिए वहां एक डलाबघर की जरूरत महसूस की गई। इसे लेकर कल से ही निर्माण शुरू करने का निर्देश दिया गया। सप्ताह भर में डलाबघर बनने के बाद तालाब में कूड़ा डालने वालों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: डेलापीर तालाब को पाटने में निगम के ठेले का इस्तेमाल